Top
Begin typing your search...

नोएडा एसएसपी वैभव कृष्ण के 'ऑपरेशन टारगेट क्रिमिनल' की बड़ी कामयाबी, पच्चीस हजार के दो इनामी बदमाश गिरफ्तार

नोएडा एसएसपी का 'ऑपरेशन टारगेट क्रिमिनल' का आज चौथे दिन बड़ी कामयाबी मिली.

नोएडा एसएसपी वैभव कृष्ण के ऑपरेशन टारगेट क्रिमिनल की बड़ी कामयाबी,  पच्चीस हजार के दो इनामी बदमाश गिरफ्तार
X
Vaibhav Krishna, IPS (SSP/GBN)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नाोएडा। गौतमबुद्ध नगर के तेज तर्रार,कर्मठ और ईमानदार एसएसपी वैभव जिनका जिले में आने का उद्देश ही अपराध व अपराधियों का खात्मा करना है। इसी उद्देश का पालन करते हुये कप्तान ने बड़े बड़े अपराधियों को उनकी सही जगह दिखा दी है। आपको बता दे कि एसएसपी वैभव कृष्ण ने अपराधियों को पकड़ने के लिए कई अभियान चलाये जिसमें पुलिस को बड़ी कामायाबी मिली।

जिले में आते ही कप्तान ये दिखा दिया कि अगर कोइ अधिकारी मन से कुछ कार्य करे तो जिले में बड़ा बदलाव हो सकता है। इसी क्रम में जिले में एसएसपी के द्वारा 'ऑपरेशन टारगेट क्रिमिनल' लांच किया है। 15 दिनों तक चलने वाले इस ऑपरेशन में एसपी और डीएसपी स्तर के अफसरों को भी क्रिमिनल पकड़ने होंगे। एसपी 3-3 और डीएसपी 5-5 बदमाश पकड़ेंगे। एसएसपी ने इस अभियान को शुरू करने के लिए सोमवार की रात गौतमबुद्ध विश्विद्यालय के सभागार में मीटिंग कर इसकी शुरुआत की थी।

अब इस अभियान ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। जहाँ एसपी सिटी विनीत जायसवाल के अधीन आने वाले सेक्टर 49 थाना ने दो बड़े पादरी गेंग के बदमाश मुठभेड़ में गोली लगने के बाद गिरफ्तार किये है। ये दोनों बदमाश प्रदेश ही नहीं अन्य प्रदेशों में भी कई मुकद्दमों में वांछित चल रहे है।



मुठभेड़ की जानकारी देते हुए एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया है कि थाना सेक्टर 49 टीम द्वारा पुलिस एनकाउंटर में गिरफ्तार किए गए पादरी गैंग के दो सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है। इन दोनो पर 25 हजार का इनाम घोषित था। दोनों को गोली लगी। वे घरों में लूट, डकैती, चोरी जैसी घटनाओं में शामिल थे। वे यूपी के कई जिलों और कर्नाटक, तमिलनाडु आदि विभिन्न राज्यों के ऐसे कई मामलों में वांछित थे। उनके पास एक दर्जन से अधिक मामलों का लंबा आपराधिक इतिहास है। अभी उनके अपराधिक इतिहास की जानकारियां और एकत्रित की जा रही है।




मुठभेड में दो बदमाश गोली लगने से घायल हुए उनमें नरेन्द्र पारदी पुत्र श्रीकृष्ण पारदी, निवासी हडृडी मील थाना कोतवाली जनपद गुना (म0प्र0) और राजेश एर्फ राजू उर्फ मनीष पारदी पुत्र सुरेश उर्फ सेवा उर्फ मोहन पारदी निवासी कमलपुर, शनिदेवगाॅव, औरंगाबाद, महाराष्ट्र को गिरफ्तार किया गया। दोनों बदमाश पैर में गोली लगने से घायल हो गये, जिनको उपचार हेतु अस्पताल भेजा गया है एवं दो अन्य बदमाश अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे। घायल बदमाशों के कब्जे से 2 तमंचे नाजायज 315 बोर , 4 जिन्दा कारतूस एवं 2 खोखा कारतूस एवं एक आटो एवं चोरी करने के उपकरण बरामद हुए है। घायल बदमाश थाना सैक्टर-49, थाना-फेस-3 एवं जनपद हापुड के मुकदमो में वांछित चल रहे हैं। उपरोक्त दोनो अभियुक्तो की गिरफ्तारी पर जनपद गौतमबुद्धनगर से 25-25 हजार रूपये का पुरस्कार घोषित है।





Special Coverage News
Next Story
Share it