Top
Begin typing your search...

कंपनी प्रबंधक की हत्या में वाछिंत चल रहे दो अन्य आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

कंपनी प्रबंधक की हत्या में वाछिंत चल रहे दो अन्य आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

धीरेन्द्र अवाना

ग्रेटर नोएडा। एसएसपी के कुशल नेतृव्य में बादलपुर कोतवाली को उस वक्त एक बड़ी सफलता मिली जब पुलिस ने एक फायनांस कंपनी के प्रबंधक आजाद की हत्या में वाछिंत चले आरोपियों को गिरफ्तार किया।

आपको बता दे कि कुछ माह पूर्व कंपनी प्रबंधक के ममेरे भाई परविंदर व उसके साथी चमन व दो अन्य लोगों ने साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया था। पराविंदर ने अपने ममरे भाई आजाद जो एक फायनांस कंपनी में प्रबंधक के पर था की कंपनी से अपने साथियों के साथ सौना लूटने की साजिश रची जिसका विरोध आजाद ने किया। सोने के लालच में परविंदर ने अपने तीन साथियों के साथ मिलकर आनी ही भाई की हत्या कर दी।परविंदर व चमनलाल को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी थी। आज पुलिस ने दो अन्य आरोपियों को पकड़ कर हत्या के केस का पर्दाफाश किया।

एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि बादलपुर कोतवाली क्षेत्र में कल्दा नहर की पुलिया के पास बीते 20 जून 2019 को एक अज्ञात युवक का शव पड़ा मिला था। इसकी पहचान हापुड़ के काठी खेड़ा गांव के रहने वाले आजाद के रूप में हुई थी।आजाद की गोली मारकर हत्या की गई थी। आजाद एक फायनांस कंपनी में गाजियाबाद की शाखा में प्रबंधक के पद पर तैनात थे। परिजन ने मामले में अज्ञात बदमाशों पर हत्या का मुकदमा दर्ज करवाया था। उसके बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की।

बादलपुर कोतवाली प्रभारी पटनीश कुमार की टीम ने मामले में सीसीटीवी से अहम सुराग हासिल किया। फुटेज के आधार पर पुलिस ने प्रबंधक आजाद के ममेरे भाई परविंदर को हिरासत में लेकर पूछताछ की।पुलिस पूछताछ में उसने बताया कि उसने कुछ दिनों पहले आजाद से दस हजार रुपये उधार लिए थे।आजाद उस पर रुपये पैसे वापस करने का दबाव बना रहा था।परविंदर ने बताया कि आजाद कंपनी में प्रबंधक था और लॉकर की चाबी रहती थी। परविंदर ने कंपनी से सोना लूटने की योजना बनायी जिसका विरोध करने की कीमत आजाद को अपनी जान देकर चुकानी पडी।

Special Coverage News
Next Story
Share it