Top
Begin typing your search...

होली के दूसरे दिन नोएडा में सात लोंगों ने की आत्महत्या, लोंगों में दहशत का माहौल, जबकि पुलिस ने मानी चार

नोएडा में सॉफ्टवेयर इंजीनियर समेत सात लोगों ने खुदकुशी कर ली

होली के दूसरे दिन नोएडा में सात लोंगों ने की आत्महत्या, लोंगों में दहशत का माहौल, जबकि पुलिस ने मानी चार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गौतमबुद्ध नगर (Gautam Buddh Nagar) जिले में होली पर भी आत्महत्याओं का सिलसिला थमा नहीं है। होली के दिन से कल तक यानि पिछले 24 घंटे के अंदर एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर समेत सात लोगों ने खुदकुशी की हैं। पुलिस ने यह जानकारी मंगलवार को दी है। इन आत्महत्याओं से आम जन मानस में दहशत का माहौल बना हुआ है। इससे पहले भी नोएडा में आत्महत्या काफी तादाद में हो चुकी है तब भी मिडिया में यह मुद्दा उठा था।

जबकि इस खबर के वायरल होने पर गौतमबुद्धनगर के अपर आयुक्त कानून और व्यवस्था ने जानकारी ली. मीडिया द्वारा खबर दिखाए जाने पर जॉइंट सीपी लव कुमार ने पड़ताल कर शेयर की जानकारी और कहा कि 24 घंटो में 7 आत्महत्या के मामलों की चल रही खबर को पुलिस टीम ने भी गलत बताया है. 29 मार्च को 7 नही 4 लोगो ने आत्महत्या की थी .

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक नोएडा के थाना सेक्टर-39 क्षेत्र में स्थित अजनारा हैरीटेज सोसाइटी में रहने वाले सॉफ्टवेयर इंजीनियर तबरेज खान (45) ने मंगलवार को अपने घर पर पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है। उन्होंने बताया कि खान गुरुग्राम की एक कंपनी में काम करते थे और उन्होंने अपनी कंपनी के लिए कोई प्रोजेक्ट तैयार किया था, जो अस्वीकृत हो गया था। इस वजह से वह मानसिक तनाव में थे।

दूसरा मामला नोएडा के थाना फेस-3 क्षेत्र में सेक्टर-119 स्थित एल्डिको आमंत्रण सोसायटी का है। यहां रहने वाली 20 वर्षीय युवती कुमारी पार्थवी चंद्रा ने बीती रात अपने फ्लैट में छत के पंखे से फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली है। उन्होंने बताया कि उसके घर वालों ने गंभीर हालत में उसको एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस खुदकुशी के कारण का पता लगाने के लिए मामले की जांच कर रही है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

थाना फेस-3 क्षेत्र के ही वाजिदपुर गांव में रहने वाले वाली गीता देवी (40) ने बीती रात को अपने घर पर पंखे से फंदा लगा लिया। इस घटना में उनकी मौत हो गई। उन्होंने बताया कि मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। गीता देवी ने आत्महत्या क्यों की है, यह पता लगाने की कोशिश पुलिस कर रही है।

एक अन्य घटना में थाना दादरी क्षेत्र के लोहारली गांव में रहने वाले भीम (28) ने भी खुदकुशी कर ली। सूचना मिलने पर पुलिस गांव में पहुंची। लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। आत्महत्या करने की वजह पता नहीं चली है।

पुलिस के मुताबिक थाना सेक्टर-49 क्षेत्र के बरौला गांव में रहने वाले धर्मेंद्र मिश्रा (40) ने कथित तौर पर मानसिक तनाव के चलते पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है।

पुलिस के मुताबिक थाना सेक्टर-20 क्षेत्र में रहने वाले प्रकाश हलदर (30) के पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या करने का मामला भी सामने आया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

उन्होंने बताया कि थाना सेक्टर-49 क्षेत्र में रहने वाले सतपाल पुत्र महिपाल के कथित तौर पर मानसिक तनाव के चलते आत्महत्या करने का एक मामला भी सामने आया है।


Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it