Begin typing your search...

सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, 3 युवतियां और 3 युवक पकड़ाए, युवतियों से पुलिस ने की पूछताछ तो पता चला....

सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, 3 युवतियां और 3 युवक पकड़ाए, युवतियों से पुलिस ने की पूछताछ तो पता चला....
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने नोएडा में एक सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है। ऑनलाइन सेक्स रैकेट की यह गैंग कस्टमर को एक गेस्ट हाउस में बुलाते थे। पूरी डील व्हाट्सएप पर तस्वीरें भेजकर होती थी। इसमें तीन लड़कियों को हिरासत में लिया गया है। वहीं तीन युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार, ये सेक्स रैकेट सेक्टर-49 क्षेत्र में चल रहा था। एक आरोपी मौके से फरार है जिसकी तलाश की जा रही है। महिला सुरक्षा की DCP वृंदा शुक्ला ने बताया कि 3 युवतियों को हिरासत में लिया गया है। वहीं तीन युवकों को गिरफ्तार कर गैंग के बारे में पूछताछ की जा रही है।

नोएडा पुलिस की एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट की टीम के प्रभारी देवेंद्र यादव ने बताया कि कई दिन से गेस्ट हाउस में सेक्स रैकट चलने की जानकारी मिल रही थी। बुधवार शाम को पुलिस टीम ने सेक्टर-49 थाना क्षेत्र स्थित क्राउन स्टे गेस्ट हाउस में छापेमारी की। पुलिस टीम ने मौके से तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया और तीन युवतियों को भी हिरासत में लिया। पुलिस के अनुसार, पकड़े गए आरोपियों की पहचान कुरारा हमीरपुर निवासी अनुराग, दानवेंद्र और उमरी भिंड मध्य प्रदेश निवासी शैलेंद्र यादव के रूप में हुई है।

आरोपियों के पास से घटना में प्रयुक्त तीन मोबाइल फोन और 3500 रुपये बरामद हुए हैं। पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ सेक्टर-49 थाने में संबंधित धाराओ में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। हिरासत में ली गई युवतियों से पुलिस टीम पूछताछ कर रही है। इस दौरान फरार हुए आरोपी सेक्टर-51 निवासी अर्जुन की तलाश करने में जुटी है। गिरफ्तार लोगों से उसके बारे में जानकारी जुटाई जा रही है।

पुलिस के अनुसार पकड़े गए आरोपियों ने बताया कि ये लोग गूगल और वॉट्सऐप नंबर के माध्यम से लोगों से बात करते थे। बात करने के दौरान यदि किसी ग्राहक से डील होती थी तो ये लोग लड़कियों के माध्यम से देह व्यापार करवाते थे। इसकी एवज में ग्राहकों से 3000 रुपये प्रति ग्राहक तक वसूली की जाती थी। 1000 रुपये लड़कियों को प्रति ग्राहक दिए जाते थे। शहर में इससे पहले भी देह व्यापार का खुलासा हो चुका है।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it