Top
Begin typing your search...

नोएडा: एसएसपी वैभव कृष्ण के चक्र में फिर फंसे फर्जी आईपीएस और आईएएस!

नोएडा:  एसएसपी वैभव कृष्ण के चक्र में फिर फंसे फर्जी आईपीएस और आईएएस!
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नोएडा में पिछले आठ सालों से लोगों को चूना लगाने वाले फर्जी आईएएस और आईपीएस ऑफिसर को आखिर पुलिस ने गिरफ्तार कर ही लिया. पुलिस को इनके पास से पुलिस की वर्दी, फर्जी आईडी कार्ड, आईएएस और आईपीएस के बैच बरामद हुए हैं. आरोपियों की पहचान गौरव मिश्रा और आशुतोष राठी के तौर पर हुई है. खास बात यह है कि दोनों ने अपना ऐसा रसूख कायम कर लिया था कि असली पुलिसकर्मी भी इनसे डरते थे.

पुलिसकर्मियों से ही वसूले पैसे

नोएडा के एसएसपी वैभव कृष ने बताया कि दोनों आरोपियों की हिम्मत इतनी बढ़ गई थी कि उन्होंने पुलिसकर्मियों को ही डराना और धमकाना शुरू कर दिया था. वहीं कुछ मामलों में तो उन्होंने पुलिसकर्मियों से ही रुपये ऐंठ लिए थे. यदि कोई पुलिसकर्मी रुपये देने से मना करता था तो दोनों उसे ट्रांसफर करवा देने की धमकी देते थे. ऐसे में पुलिसकर्मी डर कर उन्हें रुपये दे दिया करते थे.

एक सप्ताह पहले मिली थी शिकायत

पुलिस ने बताया कि सेक्टर 20 की पुलिस को एक सप्ताह पहले एक शिकायत मिली थी. एक व्यक्ति ने बताया था कि उसे दो लोग बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता के नाम पर धमकी दे रहे हैं और रुपयों की मांग कर रहे हैं. इसके बाद पुलिस हरकत में आई और आरोपियों की तलाश की. पुलिस ने बाद में सूचना के आधार पर दोनों आरोपियों को सेक्टर 18 मेट्रो स्टेशन के पास से गिरफ्तार कर लिया. इस दौरान दोनों अपनी कार में सवार थे, जिसे पुलिस ने रुकवा कर दोनों को दबोचा.

बीटेक है एक आरोपी

जनाकारी के अनुसार आरोपी गौरव ने बीटेक कर रखा है, वहीं आशुतोष ने बीकॉम की डिग्री ली है. गौरव के पिता प्रयागराज में सीए हैं. बताया जा रहा है कि आरोपी पहले भी अन्य अपराधों में लिप्त रहने के चलते जेल की हवा खा चुके हैं.

Special Coverage News
Next Story
Share it