Top
Begin typing your search...

पशु तस्करों की मंशा पर ग्रामीणों ने फेरा पानी, एसएसपी ने किया दरोगा को लाइन हाजिर

एसएसपी वैभव कष्ण ने बताया कि अभियोग पंजीकृत कर लिया गया है और थाना जारचा पर नियुक्त उप निरीक्षक सुभाष चंद पर लगाये गये आरोप जाँच में सत्य पाए गये।

पशु तस्करों की मंशा पर ग्रामीणों ने फेरा पानी, एसएसपी ने किया दरोगा को लाइन हाजिर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

धीरेन्द्र अवाना

ग्रेटर नोएडा। गौतमबुद्ध नगर में एक बार फिर हुयी मुठभेड़।चौकिये मत ये पुलिस की मुठभेड़ नही बल्कि ये मुठभेड़ अचानक आये बदमाशों के साथ हुयी।आप बता दे कि जारचा थाना क्षेत्र के खुर्शीदपुरा गांव में रविवार तड़के हथियारों से लैस बदमाशों ने पशु चोरी करने के मकसद से एक घर पर धावा बोल दिया।जिसके बाद ग्रामीणों और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई।इस मुठभेड़ में एक ग्रामीण व एक पशु चोर की भी मौत हो गई।


एसपी ग्रामीण विनीत जायसवाल ने बताया कि थाना जारचा क्षेत्र के गांव खुर्शीदपुरा में रहने वाले रतन सिंह के घर पर रविवार तड़के 10 से अधिक हथियारबंद बदमाश पशु चोरी करने पहुंचे।बदमाशों की आने की भनक पाकर घर वालों ने शोर मचा दिया और बदमाशों को पकड़ने के लिए ग्रामीण रतन सिंह के घर की ओर दौड़ें।ग्रामीणों को अपने तरह आता देख कर बदमाशों ने गोलियां चलानी शुरू कर दी।अपने बचाव के लिए ग्रामीणों ने भी गोलियां चलाई। मुठभेड़ में बदमाशों की गोली रतन सिंह (59) को लग गई।जिसने अस्पताल में पहुचने के बाद ही दम तोड़ दिया।


वही ग्रामीणों द्वारा चलाई गई गोली से एक बदमाश भी मारा गया।एसपी ने बताया कि इस सिलसिले में शिकायत दर्ज कर पुलिस जांच कर रही है।घटना के चलते ग्रामीणों में भारी रोष है जिसको देखते हुये गांव में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। ग्रामीणों का आरोप है आए दिन यहां पर पशु चोरी की वारदातें हो रही हैं। बार-बार शिकायत करने के बावजूद पुलिस की ओर से कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गई। वही उन्होने लाहपरवाही करने वाले पुलिसकर्मीयों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की।


एसएसपी वैभव कष्ण ने बताया कि अभियोग पंजीकृत कर लिया गया है और थाना जारचा पर नियुक्त उप निरीक्षक सुभाष चंद पर लगाये गये आरोप जाँच में सत्य पाए गये। जिसकी वजह से उनको लाइन हाजिर कर दिया गया है। अपराध पर लापरवाही करने को भी कभी भी बख्सा नहीं जायेगा। जिले में कानून व्यवस्था का पालन करना ही उद्देश्य है।

Special Coverage News
Next Story
Share it