Begin typing your search...

इलाहाबाद नाम के सभी स्टेशनों का नाम बदला, अब मिला नया नाम

इन रेलवे स्टेशनों का नाम बदलने की अधिसूचना यूपी सरकार द्वारा गुरुवार को जारी कर दी गई है।

इलाहाबाद नाम के सभी स्टेशनों का नाम बदला, अब मिला नया नाम
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

केंद्रीय गृह मंत्रालय की एनओसी (अनापत्ति प्रमाण पत्र) मिलने के बाद यूपी सरकार ने प्रयागराज के चारों रेलवे स्टेशनों के नाम बदल दिए हैं। इन रेलवे स्टेशनों का नाम बदलने की अधिसूचना यूपी सरकार द्वारा गुरुवार को जारी कर दी गई है।

प्रमुख सचिव लोक निर्माण रमेश नितिन गोकर्ण द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार इलाहाबाद जंक्शन का नाम बदलकर प्रयागराज जंक्शन, इलाहाबाद सिटी का नाम बदलकर प्रयागराज रामबाग, इलाहाबाद छिक्की का नाम बदलकर प्रयागराज छिक्की और प्रयागघाट रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर प्रयागराज संगम कर दिया गया है।

उत्तर मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी अजित कुमार सिंह ने बताया, 'अब चूंकि राज्य सरकार ने अधिसूचना जारी कर दी है, इसके आधार पर रेलवे नए स्टेशन कोड आबंटित करेगी. ये कोड संभवतः कल ही आबंटित हो जाने चाहिए.'

उन्होंने बताया कि कोड आबंटित होते ही टिकट आरक्षण प्रणाली में ये कोड बदल जाएंगे. जहां तक स्टेशन के नाम बदलने की बात है, कोड मिलते ही वह कार्रवाई शुरू हो जाएगी. कोड मिले बगैर स्टेशन का नाम बदलने से यात्री असमंजस में पड़ सकते हैं. सिंह ने बताया कि कोड मिलते ही टिकट आरक्षण भी नए कोड पर किया जाएगा.आपको बता दें कि रेल मंत्री रविवार को प्रयागराज में वैश्य महाकुम्भ सम्मेलन में शामिल होने आ रहे हैं और उनके प्रयागराज आगमन से पहले रेलवे नया कोड आबंटित कर सकता है।

सूबे की योगी सरकार द्वारा कुंभ मेले के पूर्व अक्तूबर 2018 में ही इलाहाबाद का नाम प्रयागराज करने का एलान किया गया था। राज्य सरकार के तमाम कार्यालयों में कुंभ के पहले ही प्रयागराज जुड़ गया था लेकिन रेलवे स्टेशन एवं अन्य केंद्रीय कार्यालय में इलाहाबाद ही लिखा हुआ था। इसे लेकर सांसद केशरी देवी पटेल ने अपनी आपत्ति जाहिर की थी।बाद में जीएम एनसीआर राजीव चौधरी और कमिश्नर प्रयागराज आशीष गोयल ने भी इस संबंध में पत्राचार किया।

गृह मंत्रालय पहुंचने के बाद मामला वहां फाइलों में ही उलझा था। अब गृह मंत्रालय द्वारा एनओसी दिए जाने के बाद राज्यपाल ने शहर के स्टेशनों के नाम बदले जाने की अधिसूचना बृहस्पतिवार की देर शाम जारी कर दी। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने भी ट्वीट कर खुद इसकी जानकारी दी। कहा कि इस निर्णय से प्राचीन नगर की पहचान वापस मिलेगी।


Sujeet Kumar Gupta
Next Story
Share it