Begin typing your search...

पूरामुफ्ती थाना के आसपास भीख मांगने वाले बच्चों का गैंग सक्रिय,पढ़ने लिखने की उम्र में बच्चों से भीख मंगवाने वाला मास्टर माइंड कौन

पूरामुफ्ती थाना के आसपास भीख मांगने वाले बच्चों का गैंग सक्रिय,पढ़ने लिखने की उम्र में बच्चों से भीख मंगवाने वाला मास्टर माइंड कौन
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

प्रयागराज। पूरामुफ्ती थाना के आस - पास चौराहे पर अक्सर भीख मांगते हुए छोटे - छोटे बच्चे दिखाई देते हैं। भीख मांगने वाले बच्चों की उम्र सात वर्ष से लेकर बारह वर्ष तक अंकी जाती है जिसमें बालिकाएं भी होती हैं। लोगों का मानना है कि बच्चों से भीख मंगवाने का कार्य किसी साधारण व्यक्ति का काम नहीं है बल्कि किसी मास्टर माइंड का काम है जिसका सरगना पूरामुफ्ती सहित कई इलाकों में सक्रिय है।

इस सरगना का मास्टर माइंड छोटे - छोटे बच्चों को आगे करके भीख मांगने के लिए प्रेरित करता है जिसका सीधा लाभ सरगना के मास्टर माइंड को जाता है। सरगना का मास्टर माइंड पढ़ने - लिखने की उम्र के बच्चों से भीख मंगवाकर उनके भविष्य को अंधकारमय कर रहा है और आगे चलकर यही बच्चे रुपयों की लालच में अपराध की दुनिया में कदम रखने को मजबूर हो जाएंगे। भीख मांगने वाले गैंग के बच्चों के बड़े हो जाने पर मास्टर माइंड के द्वारा उन्हें अपराध की दुनिया में धकेल दिया जाएगा और वह लूट - पाट, स्नैचिंग सहित कई आपराधिक गतिविधियों को अंजाम देंगे।

लोगो का कहना है कि स्थानीय थाना पुलिस को भविष्य के लिए अपराध पर नियंत्रण बनाए रखने के लिए कड़ा रुख अख्तियार करना होगा। बालावस्था के बच्चों से भीख मंगवाने वाले मास्टर माइंड को खोजकर कड़ी से कड़ी सजा देकर उसकी कार्यशैली पर लगाम लगाना होगा। भीख मांगने वाले बच्चे दिनभर चौराहे पर घूमते रहते हैं और जैसे ही कोई व्यक्ति शूट - बूट से दिखाई देता है उनके पास जाकर यह बच्चे हांथ फैलाकर रुपए की डिमांड करने लगते हैं। सूत्रों की माने तो गैंग बनाकर भीख मांगने वाले बच्चे सरगना के मास्टर माइंड को लाखों रुपए प्रतिमाह भीख से अर्जित करके रकम देते हैं।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it