Begin typing your search...

LIVE: प्रयागराज पहुंच सीएम योगी ने दी महंत नरेंद्र गिरि को दी श्रद्धांजलि, बोले- दोषी अवश्य सजा पाएगा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को प्रयागराज पहुंच महंत नरेंद्र गिरि को श्रद्धाजंलि दी.

LIVE: प्रयागराज पहुंच सीएम योगी ने दी महंत नरेंद्र गिरि को दी श्रद्धांजलि, बोले- दोषी अवश्य सजा पाएगा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

प्रयागराज : अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की सोमवार को संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है. प्रयागराज में नरेंद्र गिरि का शव फांसी से लटका हुआ मिला, साथ ही में एक सुसाइड नोट भी मिला था. पुलिस इस मामले की जांच में जुटी है, कई लोगों को हिरासत में लिया गया है.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को प्रयागराज पहुंच महंत नरेंद्र गिरि को श्रद्धाजंलि दी. योगी आदित्यनाथ के साथ यूपी बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह समेत अन्य तमाम नेता और सांसद मौजूद रहे. इस दौरान CM योगी ने कहा, ये बहुत दुःखद घटना है. आज धार्मिक समाज को बहुत नुकसान हुआ, हम नरेंद्र गिरि जी के निधन से दुखी हैं.

दोषी अवश्य सजा पाएगा: सीएम योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महंत नरेंद्र गिरि को श्रद्धांजलि देने के बाद मीडिया से बात की. योगी आदित्यनाथ ने कहा कि नरेंद्र गिरि महाराज के निधन से हम सभी दुखी हैं. साल 2019 के प्रयागराज कुंभ के दौरान नरेंद्र गिरि की ओर से पूरा सहयोग दिया गया था. सीएम योगी ने कहा कि साधु समाज से जुड़ी समस्या हो या फिर प्रयागराज से जुड़ी कोई दिक्कत हो, महंत नरेंद्र गिरि द्वारा हमेशा सहयोग देते थे.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कल की घटना को लेकर पुलिस की एक टीम जांच कर रही है, एडीजी जोन, आईजी रेंज समेत अन्य अधिकारी मिलकर जांच में जुटे हैं. एक-एक घटना का पर्दाफाश होगा और दोषी अवश्य सज़ा पाएगा. सीएम बोले कि संवेदनशील मामले में अनावश्यक बयानबाजी से बचें, जांच एजेंसी को काम करने दें और जो दोषी है उसे सजा दी जाएगी. सीएम योगी ने बताया कि बुधवार को नरेंद्र गिरि का पोस्टमॉर्टम होगा, उसी के बाद समाधि दी जाएगी.

जरूरत पड़ी तो करवाएंगे सीबीआई जांच: केशव मौर्य

महंत नरेंद्र गिरि की मौत की सीबीआई जांच की मांग उठ रही है. संत समाज ने इस मांग को उठाया है, इस बीच उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि अगर जरूरत पड़ती है, तो सीबीआई से भी जांच करवाई जाएगी.

कब और कैसे दी जाएगी समाधि?

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के मुताबिक, आज 11:30 बजे के बाद नरेंद्र गिरि का पार्थिव शरीर मठ बाघमबारी गद्दी में आमजन के दर्शन के लिए खोला जाएगा. आत्महत्या के कारण नरेंद्र गिरि का अभी पोस्टमार्टम ही होना बाकी है.

संत परंपरा के अनुसार, जल समाधि और भू-समाधि का प्रावधान है. भूत समाधि जिसमें खुले में शरीर को छोड़ दिया जाता है यह परंपरा अब बंद हो गई है. नरेंद्र गिरि निरंजनी अखाड़े के महंत थे. अखाड़े के पंच परमेश्वर द्वारा ही इसमें निर्णय किया जाएगा कि किस तरह की समाधि नरेंद्र गिरि को देनी है.

संन्यास धारण करने के समय ही व्यक्ति अपना पिंड दान कर देता है. जिसके पश्चात उसका परिवार से कोई संबंध नहीं रह जाता है, अखाड़े के श्री महंत और पंच परमेश्वर ही इसका फैसला करते हैं.


Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it