Begin typing your search...

डिप्टी सीएम के खास समझे जाने वाले चौकी इंचार्ज ने दलित युवक को नग्न कर बेरहमी से पीटा!

चौकी इंचार्ज ने दलित युवक को नग्न कर बेरहमी से पीटा

डिप्टी सीएम के खास समझे जाने वाले चौकी इंचार्ज ने दलित युवक को नग्न कर बेरहमी से पीटा!
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

प्रयागराज। संकीर्ण मानसिकता से प्रेरित प्रशासनिक अधिकारियों के द्वारा द्वाबा की धरती पर अवैध वसूली में नाकामयाब हो जाने के कारण निचली बिरादरी के लोगों का अक्सर पुलिस द्वारा उत्पीड़न किया जाता है। द्वाबा की धरती पर ऐसे कई मामले निकलकर सामने आए हैं जिसमे सिर्फ निचली बिरादरी के लोगों का आर्थिक और शारीरिक रूप से शोषण किया गया है, कहीं ऐसा तो नहीं शोषणकर्ताओं के पीछे किसी की चाल हो यह लोगों का सोचना है। द्वाबा में तेजी से दलित उत्पीडन बढ़ रहा है कहीं शोषणकर्ताओं के खिलाफ जनाक्रोश ना आ जाए जिससे सम्हालना इनके लिए मुश्किल हो जाए।

इसी तरह का एक नया मामला चरवा थाना क्षेत्र के बरियावां चौकी से निकलकर आ रहा है। राजस्व मामले में नीबी शाना गांव के राजू पासी नाम के एक युवक को बरियावां चौकी इंचार्ज अरुण कुमार मौर्य पकड़ लाए और चौकी लाकर सीधा अवैध वसूली की डिमांड कर दिए। युवक के द्वारा अवैध वसूली का विरोध करने पर संकीर्ण मानसिकता के चौकी इंचार्ज ने युवक को नग्न कर मानवाधिकार को खुली चुनौती देकर मानवता की सारी हदें पार करते हुए एक के बाद एक करके कई लाठियों की यातना युवक को दे दी। युवक चौकी इंचार्ज की यातना से पीड़ित होकर जमीन पर बेसुध होकर गिर पड़ा तब जाकर लाठियों का क्रम चौकी इंचार्ज को मजबूरन रोकना पड़ा।

युवक के होश में आ जाने के बाद उक्त युवक को फिर चौकी इंचार्ज ने यातनाएं दी चौकी इंचार्ज को इस बात का डर था कि कहीं पीड़ित युवक आला अधिकारियों के यहां पहुंचकर उनकी शिकायत ना कर दे इसलिए उसे शांति भंग का अंदेशा दिखाई पड़ने लगा और चौकी इंचार्ज ने युवक का धारा 151 में चालान कर दिया। इसके पूर्व भी कई दफा छोटे मामलों में लोगों को चौकी लाकर अवैध वसूली की डिमांड ब्रिटिश मानसिकता के गुलाम चौकी इंचार्ज कर चुके हैं।

डिमांड पूरी हो जाने पर चौकी से मामला रफा - दफा कर दिया जाता है और डिमांड पूरी ना होने पर लाठियों की यातना देकर 151 में चालान कर देते हैं। अब देखना है कि अवैध वसूली बाज ब्रिटिश मानसिकता का गुलाम चौकी इंचार्ज के कारनामे को संज्ञान लेकर उच्चाधिकारी उसे दंडित करेंगे या फिर अवैध वसूली बाज चौकी इंचार्ज के कारनामे पर पर्दा डालने का कार्य अधिकारी करेंगे क्योंकि अवैध वसूली बाज चौकी इंचार्ज डिप्टी सीएम का खासमखास बताया जाता है।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it