Begin typing your search...

नागिन का इंतकाम...नाग मारने वाले शख्स को 7 बार काट चुकी है, फिल्मी स्टोरी से कम नहीं है दास्तान

नागिन का इंतकाम...नाग मारने वाले शख्स को 7 बार काट चुकी है, फिल्मी स्टोरी से कम नहीं है दास्तान
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां के रामपुर में एक नागिन (Snake) ने अपने नाग की हत्या करने वाले शख्स को 7 बार डंसा पर वो हर बार बच गया। इस घटना के सामने आते ही लोग हैरान रह गए। अब तक सिर्फ फिल्मों में दिखाया गया था कि, एक नागिन अपना इंतकाम लेने के लिए सारी हद पार कर देती है। अब ऐसा ही कुछ असल जिंदगी में देखने को मिल रहा है।

दरअसल, रामपुर में एक नागिन ने एक शख्स को 7 बार डंसा है। लेकिन, यह शख्स हर बार बच जाता है। इस शख्स का नाम एहसान उर्फ बबलू है। यह कृषि फार्म पर नौकरी करता है। एहसान जनपद रामपुर के स्वार तहसील क्षेत्र के अंतर्गत गांव मिर्जापुर का रहने वाला है। सात महीने पहले एहसान का सामना नाग और नागिन से हुआ। तब एहसान ने लाठी से वार करते हुए नाग को मार दिया। वहीं, नागिन बचकर निकल गई। तब से नागिन अपने नाग के हत्यारे को मारने की कोशिश कर रही है।

नागिन (Snake) ने मौका मिलते ही एहसान को डंस लिया। लेकिन सही समय पर इलाज मिलने पर वो बच गया। इसके बाद नागिन ने फिर से एहसान को डंसा। लेकिन, वह फिर एक बार बच गया। नागिन ने हार नहीं मानी। नागिन अपना बदला लेते हुए अब तक एहसान को 7 बार काट चुकी है। लेकिन, वह हर बार बच जाता है। वहीं, लगातार सांप से काटे जाने के वजह से एहसान डर के साये में जीने को मजबूर है। नागिन के हमले के दौरान खुद को बचाने के लिए एहसान ने लाठी से उस पर भी कई बार वार किया। लेकिन नागिन खुद को बचाने में कामयाब रही।

अब पूरे इलाके में नागिन (Snake) के इंतकाम की कहानी चर्चा का विषय बन गई है। वहीं, इस मामले पर एहसान का कहना है कि वो बेहद गरीब है और मजदूरी कर अपने परिवार को पालता है। एहसान ने बताया कि, 'मुझे 7 महीने पहले दो सांप दिख थे। मैंने एक को मारकर जमीन में गाड़ दिया था। इसके बाद से नागिन मुझ पर कई बार वार किया। वो मुझे खेत में काम करने के दौरान सात बार डंस चुकी है। मेरे छोटे-छोटे चार बच्चे हैं और अब हमेशा डर के साये रहता हूं अगर मुझे कुछ हो गया तो मेरे परिवार का क्या होगा।'

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it