Top
Begin typing your search...

योगी सरकार का बड़ा कदम, डॉक्टरों की रिटायरमेंट की उम्र होगी 70 वर्ष

डॉक्टरों की रिटायरमेंट उम्र 65 से बढ़ाकर 70 वर्ष की जाएगी.

योगी सरकार का बड़ा कदम, डॉक्टरों की रिटायरमेंट की उम्र होगी 70 वर्ष
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव-2022 (UP Assembly Election 2022) से पहले प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) बड़ा फैसला करने जा रही है. योगी सरकार डाक्टरों की रिटायरमेंट की उम्र (Doctor's Retirement Age) बढ़ाने जा रही है. दरअसल योगी सरकार ने कोरोना और अन्य बीमारियों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग में एक बड़ा फैसला करने की तैयारी की है. जिसके तहत डॉक्टरों की रिटायरमेंट उम्र 65 से बढ़ाकर 70 वर्ष की जाएगी.

जानकारी के अनुसार इस निर्णय से संबंधित प्रस्ताव पर जल्द ही योगी सरकार की कैबिनेट बैठक में मुहर लगाई जाएगी. उत्तर प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना ने न्यूज 18 से EXCLUSIVE बयान में कहा है कि हमें ज्यादा अनुभव वाले डॉक्टरों की आवश्यकता है. डॉक्टर रिटायरमेंट के बाद अपना कोई प्राइवेट क्लीनिक खोलें, इससे बेहतर है कि वह अपनी सेवाएं हमें ही दें. इसको देखते हुए हमने प्रस्ताव तैयार किया है. सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस पर अपनी सहमति भी दे दी है. जल्द ही इसे कैबिनेट से मंजूरी दी जाएगी.

विपक्ष के पास आज कोई मुद्दा नहीं: सुरेश खन्ना

वहीं सरकार के कार्यकाल के संबंध में वरिष्ठ मंत्री ने कहा कि योगी सरकार ने अपने कार्यकाल में अब तक लोक संकल्प पत्र का हर वादा पूरा किया है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में हमने वो काम किये हैं, जो सोचना भी सपा और बसपा के लिए मुश्किल था. कोरोना को लेकर अभी राज्यों के हालात बेहद बुरे हैं लेकिन यूपी जैसे बड़े राज्य में आज 35 से ज्यादा ऐसे जिले हैं, जो कोरोना से मुक्त हो चुके हैं. यहां तक कि वैक्सीनेशन के मामले में भी हमने बाकि राज्यों को पीछे छोड़ दिया. आज यूपी में 50 प्रतिशत से ज्यादा आबादी वैक्सीन की पहली डोज ले चुकी है. इस सरकार में जितने मेडिकल कॉलेज खोले गये वो किसी सरकार में नही खोले गये हैं. विपक्ष के पास आज कोई मुद्दा नहीं है.

सुरेश खन्ना ने आगामी चुनाव को लकर कहा कि विपक्ष के पास फिलहाल कोई मुद्दा नहीं है. वो सिर्फ किसानों को भड़काकर अपनी दुकान चलाने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन उनकी दाल नहीं गलने वाली है. जनता ने हम पर जो भरोसा किया था, हम उनसे खरे उतरे हैं.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it