Begin typing your search...

प्रेमिका को यमुना में क्यों दिया धक्का, प्रेमी से पूछताछ में हुआ खुलासा

प्रेमिका को यमुना में क्यों दिया धक्का, प्रेमी से पूछताछ में हुआ खुलासा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

आंध्र प्रदेश की युवती को अपहरण कर सहारनपुर लाया गया। युवती से जेवर लूटे और फिर हथिनी कुंड बैराज में धक्का दे दिया। आंध्र प्रदेश पुलिस ने सहारनपुर पुलिस की मदद से दो अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है।


बतादें कि युवती ने शादी की जिद की तो उसे घुमाने के बहाने हथिनी कुंड बैराज पर ले गया और यमुना नदी में धक्का दे दिया। आंध्र प्रदेश पुलिस युवती की तलाश में सहारनपुर पहुंची। पुलिस ने आरोपी और उसके दोस्त को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उन्होंने पूरी घटना का खुलासा कर दिया। आंध्रा प्रदेश और कोतवाली मंडी पुलिस ने दोनों को साथ लेकर शव बरामदगी के लिए नदी में सर्च ऑपरेशन चलाया, लेकिन उसका शव नहीं मिल पाया है। पुलिस ने आरोपियों से लूटा गया दस तोला सोना भी बरामद कर लिया है।

कोतवाली मंडी क्षेत्र के मोहल्ला खाताखेड़ी निवासी आसिफ झाड़ फूंक का कार्य करता है और शादीशुदा है। पिछले दिनों आंध प्रदेश के जनपद विजयवाड़ा जनपद निवासी तस्लीमा (24) पुत्री नजीर अहमद की हैदराबाद में आसिफ से मुलाकात हुई थी। दोनों के बीच दोस्ती हो गई और फोन पर भी बात करने लगे। कुछ दिन पहले आसिफ मानकमऊ निवासी अपने दोस्त तैय्यब के साथ तस्लीमा से दिल्ली में मिला और उसे कार से अपने साथ सहारनपुर ले आया।

आसिफ ने जिले में कई स्थानों पर किराए पर मकान में तस्लीमा को रखा। युवती अपने साथ में करीब 10 तोले सोने के जेवरात भी लेकर आई थी। विजयवाड़ा में परिजनों ने तस्लीमा के लापता होने की गुमशुदगी दर्ज करा रखी थी। कॉल डिटेल के आधार पर आंध प्रदेश पुलिस सोमवार की सुबह सहारनपुर के कोतवाली मंडी पहुंची। स्थानीय पुलिस की मदद से आसिफ और तैय्यब को पकड़ लिया गया। आसिफ ने तस्लीमा को नदी में धक्का देना स्वीकार कर लिया।

पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि तस्लीमा आसिफ से शादी करने की जिद कर रही थी, लेकिन वह पहले से शादीशुदा था। उसने तस्लीमा को कहा कि पहले वह अपनी पत्नी को तलाक देगा और फिर शादी करेगा। इसके बाद आसिफ ने अपने दोस्त की मदद से तस्लीमा से पीछा छुड़ाने को प्लान बनाया। आसिफ और तैय्यब युवती को हथिनीकुंड बैराज पर घुमाने ले गए। वहां पर युवती के साथ उन्होंने फोटो खींचे। इसके बाद तीनों वापस आ गए। 18 जुलाई को आसिफ तस्लीमा को दोबारा हथिनी कुंड बैराज पर ले गया और वहां पर उसे यमुना नदी में धक्का दे दिया। अभी युवती का शव बरामद नहीं हुआ था। एसएसपी डॉ. एस चनप्पा ने बताया कि विजयवाड़ा में मामला दर्ज है। आरोपियों को गिरफ्तार कर हैदराबाद पुलिस के हवाले कर दिया गया है। लड़की के शव को तलाश कराया जा रहा है।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it