Top
Begin typing your search...

विधायक को जूते से पीटने के बाद सांसद बोले, उधर विधायक समर्थकों ने डीएम ऑफिस में तोड़फोड़

विधायक को जूते से पीटने के बाद सांसद बोले, उधर विधायक समर्थकों ने डीएम ऑफिस में तोड़फोड़
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
यूपी के संत कबीरनगर से भारतीय जनता पार्टी के सांसद शरद त्रिपाठी ने अपनी ही पार्टी के विधायक राकेश बघेल को जूता से पीटने पर दुख जताया है. साथ ही कहा कि अगर भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष उनको तलब करेंगे, तो वो अपना पक्ष रखेंगे.

दरअसल, एक कार्यक्रम के दौरान बीजेपी सांसद शरद त्रिपाठी और विधायक राकेश बघेल के बीच जमकर मारपीट हुई थी. इस दौरान बीजेपी सांसद त्रिपाठी ने अपनी पार्टी के विधायक बघेल को जूतों से जमकर पीटा था. इस कार्यक्रम में संत कबीरनगर के जिलाधिकारी और योगी सरकार में मंत्री आशुतोष टंडन भी मौजूद रहे.



जब दोनों बीजेपी नेताओं के बीच हुई मारपीट और गाली गलौज का वीडियो सामने आया, तो सांसद त्रिपाठी ने खेद जताया. उन्होंने कहा, 'मैं इस घटना पर खेद जताता हूं और इसको लेकर मैं बहुत बुरा महसूस कर रहा हूं, जो भी हुआ, वो मेरे सामान्य व्यवहार के खिलाफ था. अगर भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने मुझे तलब किया है, तो पूरे मामले मे मैं अपना पक्ष रखूंगा.'

बताया जा रहा है कि शिलापट्ट पर सांसद महोदय का नाम नहीं था. इसी बात को लेकर सांसद शरद त्रिपाठी विधायक राकेश बघेल से भिड़ गए थे. मामले को लेकर पहले तनातनी हुई और फिर मारपीट शुरू हो गई. बीजेपी सांसद शरद त्रिपाठी ने फौरन जूता उतारा और अपनी ही पार्टी के विधायक राकेश बघेल के सिर पर बरसाने लगे. इतनी मामूली सी बात को लेकर हुई इस मारपीट इस घटना को देखकर वहां मौजूद लोग दंग रह गए.

वहीं, भारतीय जनता पार्टी के विधायक राकेश बघेल ने कहा कि केंद्र सरकार की योजना के शिलापट्ट पर सांसद का नाम होता है और राज्य सरकार की योजनाओं में शिलापट्ट पर विधायक का नाम होता है. इसको लेकर कोई विवाद नहीं होना चाहिए. अगर इसके बावजूद कोई मतभेद थे, तो वो हमसे बैठकर बातचीत कर सकते थे.

बीजेपी विधायक बघेल ने कहा कि लोकसभा चुनाव आ रहे हैं और अब कार्यकर्ता व जनता सांसद त्रिपाठी के साथ नहीं है, जिसकी खीज वो हम पर निकाल रहे हैं. बीजेपी विधायक बघेल ने कहा कि जिला योजना की बैठक में लोकतंत्र को तार-तार कर दिया गया है. सांसद त्रिपाठी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने के सवाल पर बीजेपी विधायक बघेल ने कहा कि इस मामले में जो भी कार्रवाई की जाएगी, वो सबके सामने आएगी.

यूपी बीजेपी अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडे ने कहा कि हमने मामले को संज्ञान में लिया है और दोनों नेताओं को लखनऊ तलब किय गया है. इस मामले में कड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी. इसके अलावा इस घटना को लेकर बीजेपी विधायक राकेश बघेल के समर्थकों ने जिला मजिस्ट्रेट के कार्यालय के सामने हंगामा किया और सांसद शरद त्रिपाठी की गिरफ्तारी की मांग की.


Special Coverage News
Next Story
Share it