Begin typing your search...

शामली में कोरोना गाइडलाइंस की धज्जियां उड़ा रहे लोग, बिना मास्क के नजर आ रहे बाजारों में लोग

शामली में कोरोना गाइडलाइंस की धज्जियां उड़ा रहे लोग, बिना मास्क के नजर आ रहे बाजारों में लोग
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

जनपद शामली में कोरोना के केस मिलने से जहां हड़कंप मचा हुआ है तो वहीं पर चारों में भीड़ बढ़ती जा रही है लोग कोरोना का इलाज का बिल्कुल भी पालन नहीं कर रहे प्रशासन ने जहां मार्क्स ना लगाने वालों पर ₹500 का जुर्माना भी अदा करने के निर्देश दिए हैं तो वही यह प्रक्रिया भी बाजारों में नजर नहीं आ रही वही लगातार शामली में कोरोना के केस बढ़ते जा रहे हैं और प्रशासन भी लोगों से करो ना गाइडलाइन और मांस लगाने को लेकर अपील लगातार कर रहे हैं।

शामली कोरोना के केस भी जिले में मिल रहे हैं। जिला प्रशासन ने सार्वजनिक स्थानों पर मास्क लगाना अनिवार्य किया है। इसके बाद भी बहुत कम लोग मास्क लगा रहे हैं। ऐसे में कोरोना संक्रमण फैल सकता है। अप्रैल माह में देश में कोरोना केस बढ़ने लगे थे। सरकार अलर्ट हो गई थी और जिलाधिकारी जसजीत कौर ने सार्वजनिक स्थलों पर मास्क अनिवार्य कर दिया था। 29 अप्रैल से जिले में भी केस मिलने शुरू हो गए हैं, लेकिन बाजार, अस्पताल, रोडवेज बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और अन्य सार्वजनिक स्थलों पर लोग मास्क लगाना जरूरी नहीं समझ रहे हैं। रोजाना हर जगह भीड़ रहती है।

चिकित्सक डा. पंकज गर्ग का कहना है कि हमें वैक्सीन लगवाने के बाद भी पूरी सतर्कता बरतनी चाहिए। मास्क लगाना तो सामान्य बात ही है। यह लापरवाही भारी पड़ सकती है। वहीं, जिलाधिकारी जसजीत कौर का कहना है कि सभी से अपील है कि मास्क जरूर लगाएं और बार-बार हाथ भी पहले की तरह धोते रहें। अगर वैक्सीन नहीं लगी है तो नजदीकी केंद्र पर जाकर लगवा लें।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it