Top
Begin typing your search...

शामली: कैबिनेट मंत्री के ग्रहक्षेत्र में एंटी भू माफिया टास्क फैल

शामली: कैबिनेट मंत्री के ग्रहक्षेत्र में एंटी भू माफिया टास्क फैल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शामली: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने भू माफियाओं पर शिकंजा कसने के लिए जहां एंटी भू माफिया टास्क फोर्स का गठन किया गया था. वही भू माफिया मुख्यमंत्री के आदेशों की धज्जियां उड़ाते नजर आ रहे हैं, शामली के कस्बा थाना भवन के गांव पट्टी नौगांवा के ग्रामीणों ने जिला अधिकारी कार्यालय पहुंच कर डीएम शामली जसजीत कौर को किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं के साथ एक ज्ञापन सौंपा और उक्त तालाब से आवेद कब्जे को हटवाने की लेकर गुहार लगाई.

आपको बता दें जनपद शामली के जिला अधिकारी कार्यालय पर शामली के कस्बा थाना भवन के गांव पट्टी नोगामा के ग्रामीणों ने भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं के साथ डीएम शामली से तालाब पर अवैध निर्माण व कब्जे को लेकर गुहार लगाई. जिलाधिकारी शामली जगजीत कौर ने आश्वासन दिया कि जल्द ही कार्रवाई की जाएगी. ग्रामीणों ने बताया कि तालाब की भूमि पर कुछ दबंगों द्वारा जबरदस्ती अपना अवैध कब्जा कर कुछ हिस्से पर मकान व कुछ हिस्से पर झोपड़ी बना ली है.

इससे पूर्व में भी पूर्व जिलाधिकारी महोदय के आदेश अनुसार दो बार उक्त दबंगों से तालाब से अवैध कब्जा हटवाया था और हर्जाना भी वसूला गया था, लेकिन उक्त दबंगों ने दोबारा तालाब की भूमि पर अवैध निर्माण में अवैध अवैध कब्जा कर लिया है. ग्रामीणों ने गुहार लगाई कि तालाब से अवैध कब्जे को हटवाए जाए और आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए.

वहीँ इस मामले में भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश प्रवक्ता कुलदीप पवार ने बताया कि शामली के थाना भवन के एक गांव आदाब गढ़ में कुछ दबंगों ने पहले भी एक तालाब पर कब्जा कर लिया था, पहले शिकायत की गई थी, जहां पर कब्जे को हटवाया गया था, वही दोबारा एक परिवार ने उक्त तालाब पर फिर से कब्जा कर लिया है, सभी यह ग्रामीण आए हैं डीएम साहब को एप्लीकेशन दी है कि अवैध कब्जे को हटवा जाए, कोई पटवारी है जो कब्जे करवा रहा है और सरकारी सोई हुई हैं. कोई भी अधिकारी सुनने को तैयार नहीं अब देखना होगा आगे डीएम साहब क्या कार्रवाई करती हैं.

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it