Top
Begin typing your search...

शामली: महिला सब इंस्पेक्टर के साथ हुई करीब एक लाख रूपये की ऑनलाइन धोखाधड़ी, झारखंड से साइबर अपराधी गिरफ्तार

शामली: महिला सब इंस्पेक्टर के साथ हुई करीब एक लाख रूपये की ऑनलाइन धोखाधड़ी, झारखंड से साइबर अपराधी गिरफ्तार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जनपद शामली के एएचटीयू थाने मे तैनात महिला उप निरिक्षक पूनम गौतम के मोबाइल फोन पर आनलाईन धोखाधडी करने में सक्रिय साइबर अपराधियों द्वारा बैंक ट्रांजेक्सन सम्बन्धी एक मैसेज भेजा गया था। जिसके साथ बैंक के टोल फ्री नम्बर से सम्पर्क करने के विषय में कहा गया था। भेजे गये टोल फ्री नम्बर पर जानकारी किये जाने पर बैंक के कर्मचारी बनकर साइबर अपराधी द्वारा महिला उ0नि0 के खाते सम्बन्धित जानकारिया लेकर उसके खाते से करीब एक लाख रूपये का आनलाईन ट्रानजेक्सन कर लिया गया। महिला दारोगा द्वारा अपने साथ हुई इस आनलाईन धोखाधडी के सम्बन्ध मे तत्काल थाना आदर्श मण्डी पर सूचना दी गई। जिसके सम्बन्ध मे जनपद के साइबर सेल को भी अवगत कराया गया। महिला दारोगा के साथ हुई इस आनलाईन ठगी के सम्बन्ध मे थाना आदर्श मण्डी पर सुसंगत धाराओं में अभियोग पंजीकृत किया गया ।

पुलिस अधीक्षक द्वारा प्रभारी निरीक्षक आदर्श मण्डी व प्रभारी साइबर सेल शामली को उक्त घटना में लिप्त अभियुक्त की शीघ्र गिरफ्तारी एवम धनराशि की वापसी हेतु यथा शीघ्र प्रयास किये जाने को दिशा-निर्देश दिये गये ।

महिला दारोगा के साथ हुई ठगी की इस घटना के सम्बन्ध मे जनपद की साइबर सेल द्वारा तत्परता से कार्य करते हुए आनलाईन ठगी गई धनराशि को सम्बन्धित बैंक में फ्रीज कराया गया तथा इस घटना को कारित करने वाले साइबर अपराधियों के सम्बन्ध में जानकारी एकत्रित की गई। साइबर अपराधी झारखण्ड राज्य के जनपद देवघर से सम्बन्धित होना ट्रेस किया गया। साइबर अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु थाना आदर्श मण्डी पुलिस द्वारा जनपद देवघर की साइबर सेल एवम थाना देवीपुरा से सहयोग करने हेतु कहा गया तथा एक पुलिस टीम दिनांक 06.07.2021 को देवघर झारखण्ड साइबर अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु भेजी गई। पुलिस अधीक्षक शामली द्वारा झारखण्ड राज्य के देवघर जनपद के पुलिस अधीक्षक से सम्पर्क कर आवश्यक सहयोग करने हेतु आग्रह किया गया। जनपद की टीम द्वारा थाना देवीपुरा जनपद देवघर झारखण्ड की सहयोग से उक्त घटना में संलिप्त एक साइबर अभियुक्त को दिनांक 08.07.2021 को गिरफ्तार किया गया, जिसे सम्बन्धित न्यायालय से ट्रांजिट रिमाण्ड लेकर थाना आदर्श मण्डी लाया गया।

इस क्रम में आज दिनांक 12.07.2021 को थाना आदर्श मण्डी पुलिस द्वारा अभियुक्त को माननीय न्यायालय मे पेश कर जेल भेजा गया है। गिरफ्तार अभियुक्त के अन्य साथियो की जानकारी एकत्रित की गई है, जिनकी शीघ्र गिरफ्तारी हेतु टीम रवाना की जायेगी।

कैसे की ठगी

गिरफ्तार अभियुक्त से की गई पूछताछ में जानकारी हुई है कि उसके बैंक अकाउंट में पेटीएम के जरिये पैसा पहुचता है, जिसमे से उसे एक बार के ट्र्जेक्सन मे उसके ही गांव का इकबाल 3 हजार रूपये देता है । इसी प्रकार गांव के कुछ अन्य लोगो के भी बैक अकाउंट नम्बर इकबाल ने ले रखे है। इकबाल उनके खाते मे आये पैसे लेकर उसे आनलाईन ठगी करने वाले मुख्य अपराधियों तक पहुचा देता है। मुख्य अपराधी नेट के जरिये लागो के मोबाईल पर बैक ट्रांजेक्सन सम्बन्धी मैसेज भेजता है, जिसके साथ फर्जी बैंक का टोल फ्री नम्बर अटैच किया जाता है। ठगी का शिकार होने वाला व्यक्ति जैसे ही भेजे गये मैसेज में बैंक के टोल फ्री नम्बर पर शिकायत करता है उससे शिकायत के दौरान बैंक खाता सम्बन्धी जानकारी हासिल कर ली जाती है और उसके अकांउट से आनलाईन ट्रांजेक्सन कर धनराशि ठग ली जाती है।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it