Top
Begin typing your search...

शामली: बारिश के बाद भरभरा कर गिरी कच्चे मकान की छत जांच के लिए पहुंची राजस्व विभाग की टीम

मंत्री ने संज्ञान लेते हुए हर संभव सहायता का आश्वासन दिया

शामली: बारिश के बाद भरभरा कर गिरी कच्चे मकान की छत जांच के लिए पहुंची राजस्व विभाग की टीम
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जांच करने पहुंचे तहसीलदार ने राहत के तौर पर आंशिक क्षति के लिए 5200 रुपये की आर्थिक मदद की। थानाभवन शामली में हो रही बारिश के कारण जलालाबाद में स्थित कच्चे मकान की छत भरभरा कर गिर गई। गनीमत यह रही कि छत गिरने से जान-माल का कोई नुकसान नहीं हुआ।

गन्ना मंत्री सुरेश राणा ने जिला प्रशासन को मौके पर पहुंच गरीब परिवार की हर संभव मदद करने की बात कही। जांच पर पहुंचे तहसीलदार ने परिवार को राहत के तौर पर आंशिक क्षति के लिए 5200 रुपये आर्थिक मदद के लिए दिए। जबकि नियमानुसार हर संभव मदद करने का पीड़ित को आश्वासन दिया। वही बारिश के कारण थानाभवन क्षेत्र के कस्बा जलालाबाद के मोहल्ला शाह गाजीपुर में लक्ष्मी देवी पत्नी रविन्द्र के मकान की कच्ची छत ब्रहस्पतिवार रात्रि के दौरान भरभरा कर गिर गई। गनीमत यह रही कि परिवार के सभी सदस्य घटना के समय बगल वाले मकान में सो रहे थे। जिससे परिवार के सदस्यों को जान की कोई हानि नहीं हुई। हालांकि छत गिरने के बाद परिवार आर्थिक रूप से परेशान हो गया।

जिसकी जानकारी उत्तर प्रदेश के गन्ना मंत्री सुरेश राणा को मिली तो उन्होंने जिला प्रशासन से मौके पर पहुंच जांच कर नियमानुसार मदद करने की बात कही। गन्ना मंन्त्री के संज्ञान लेने के बाद शामली तहसीलदार अजय शर्मा राजस्व विभाग की टीम के साथ मौके पर पहुंचे और उन्होंने परिवार का कुशलक्षेम पता किया व परिवार को आर्थिक तौर पर आंशिक क्षति के लिए 5200 रुपये रुपए की मदद की। तहसीलदार अजय शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि मकान की कच्ची छत थी जो बारिश के कारण गिर गई। जिसमें परिवार की जान का कोई नुकसान नहीं हुआ। इसकी एक रिपोर्ट बनाकर उच्च अधिकारियो को सौंप दी गई है। उच्च अधिकारियो के दिशा निर्देश के बाद परिवार को आंशिक क्षति के लिए 52 सो रुपए की नियमानुसार मदद की गई।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it