Begin typing your search...

पुलिस के डर के चलते एक अधेड़ नदी में कूदा, परिजनों के घर में मचा कोहराम

पुलिस के डर के चलते एक अधेड़ नदी में कूदा, परिजनों के घर में मचा कोहराम
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

सुलतानपुर में बीती शाम पुलिस के डर के चलते एक अधेड़ नदी में कूद गया। तब से अब तक अधेड़ का कोई पता न चल सका है। आरोप है कि अवैध शराब बनाने की आशंका में पुलिस ने उसे दौड़ाया था, जिसके बाद अधेड़ नदी में कूद कर डूब गया। हलांकि पुलिस कप्तान मामले में पुलिस की संलिप्तता को सिरे से खारिज कर दिया। वहीं डूबे अधेड़ की तलाश के लिये एसडीआरएफ और स्थानीय गोताखोर टीम लगा दी गई है।

दरअसल ये मामला है बल्दीराय थानाक्षेत्र के बरासिन गांव का। इसी गांव में बीती शाम बल्दीराय पुलिस ने अवैध शराब की रोकथाम के लिये छापा मारा था। इसी दौरान गांव का 55 वर्षीय जयश्री निषाद जानवरों के लिये पत्ती तोड़ने गया हुआ था। पुलिस ने उसे अवैध शराब जानकर जय श्री निषाद को दौड़ा लिया। पुलिस को आता देख डर वश जयश्री गोमती नदी में कूद गया। नदी में कूदने के बाद भी पुलिस ने उसे निकालना मुनासिब नही समझ लिहाजा जयश्री नदी में डूब गया और मौके से चलते बने।

वहीं इस बात की जानकारी जब परिजनों को लगी तो कोहराम मच गया। शाम को ही परिजनों ने पुलिस को फोन किया, लेकिन तत्काल आने के बाद पुलिस रात में 8 बजे पहुंची। जिसे लेकर परिजनों और ग्रामीणों में खासा नाराजगी है और वे सारा ठीकरा बल्दीराय पुलिस पर मढ़ रहे है ।

वहीं पुलिस की कारगुजारी सोशल मीडिया पर चली तो हड़कम्प मच गया। पुलिस अधीक्षक ने इस मामले में पुलिस की संलिप्तता को सिरे से ही खारिज कर दिया। उनकी माने तो कल स्थनीय पुलिस अवैध शराब बनने वालों पर शिकंजा कंसने के लिये गांव गई हुई थी। वहां अवैध शराब की भट्ठियों और लहन को नष्ट कराया गया था, जिस स्थान की बात हो रही है वो स्थान घटना स्थल से बेहद दूर है। फिलहाल अधेड़ जयश्री की तलाश के लिये एसडीआरएफ और स्थानीय गोताखोर लगाए गए हैं।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it