Begin typing your search...

बसपा के पूर्व विधायक चंद्रभद्र उर्फ सोनू सिंह को मिली जमानत

बसपा के पूर्व विधायक चंद्रभद्र उर्फ सोनू सिंह को मिली जमानत
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

सुल्तानपुर के इसौली से पूर्व बसपा विधायक चंद्रभद्र सिंह उर्फ सोनू सिंह को जमानत मिल गई है. इलाहाबाद स्थित एमपी-एमएलए स्पेशल कोर्ट ने उन्हें जमानत दी. सोनू सिंह के भाई यशभद्र सिंह उर्फ मोनू सिंह को भी जमानत मिल गई है. दोनों भाइयों को मंगलवार को स्पेशल कोर्ट ने सरेंडर करने के बाद जेल भेजा था. बुधवार को दोनों को जमानत देने के साथ ही 20 हजार के बॉन्ड भी भरने को कहा गया.

ये है मामला

सोनू सिंह और मोनू सिंह के खिलाफ जिला पंचायत अध्यक्ष ऊषा सिंह ने मुकदमा दर्ज कराया है. घटना 5 फरवरी 2016 की है. ऊषा सिंह सपा मुख्यालय सुल्तानपुर से ब्लॉक प्रमुख उम्मीदवार नीलम कोरी का नामांकन कराने गई थी. ऊषा सिंह का आरोप है कि नामांकन के बाद बाहर निकलने उन्हें जातिसूचक गालियां दी गईं और मारपीट की गई. इस मारपीट की घटना में सिराज नाम के व्यक्ति को भी गोली लगी थी.

नजदीकी मुकाबले में जीती थीं मेनका गांधी

सोनू सिंह सुल्तानपुर और उसके आस-पास के इलाकों में अपनी बाहुबली छवि के लिए जाने जाते हैं. लोकसभा चुनाव में सोनू सिंह ने सुल्तानपुर से मेनका गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ा था. वो सपा-बसपा गठबंधन के प्रत्याशी थे. मेनका गांधी ने यहां से नजदीकी मुकाबले में चुनाव जीता था. चुनाव के दौरान भी कई बयानों को लेकर सुर्खियां बनी थीं. मेनका गांधी के बेटे और पीलीभीत से बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने सोनू सिंह को लेकर विवादित बयान दिया था.

Special Coverage News
Next Story
Share it