Begin typing your search...

पत्रकार की किशोरी पुत्री के हत्यारों की गिरफ्तारी व थानाध्यक्ष,चौकी प्रभारी व बीट सिपाहियों को सस्पेंड करने की पत्रकारों ने की मांग

पत्रकार की किशोरी पुत्री के हत्यारों की गिरफ्तारी व थानाध्यक्ष,चौकी प्रभारी व बीट सिपाहियों को सस्पेंड करने की पत्रकारों ने की मांग
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

सुल्तानपुर,जमीनी रंजिश में हुई मारपीट के दौरान घायल बृद्ध की इलाज के दौरान हुई मौत के बाद पत्रकार सहित 13 लोगों पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर गम्भीर रूप से घायल पत्रकार को अस्पताल से उठाकर जेल भेज दिया।

जानलेवा हमले के आरोपियों को जेल न भेजकर उन्हें प्रश्रय देने से मनबढ़ उन्होंने पत्रकार प्रदीप सिंह निवासी तणरसा ऐंजर की 19 वर्षीया पुत्री श्रद्धा सिंह को हाथ-पैर बांधकर जला दिया। लगभग 90% जली हालत में उसका इलाज के दौरान मेडिकल कालेज लखनऊ में इलाज के दौरान मृत्यु हो गयी।

हत्यारों की गिरफ्तारी व थानाध्यक्ष,चौकी प्रभारी व बीट सिपाहियों को सस्पेंड करने की मांग को लेकर एक ज्ञापन अध्यक्ष डॉ0अवधेश शुक्ला के नेतृव में पत्रकारों ने पुलिस अधीक्षक शिव हरि मीणा को सौंपा। उक्त मौके पर नीरज तिवारी,इम्तियाज रिजवी,बृजेश उपाध्याय,धर्मेंद्र सिंह,श्रीकृष्ण पांडेय,बृजेश तिवारी,दिनेश सिंह,प्रदीप पांडेय प्रेम वर्मा,अनुराग तिवारी,दिनेश पांडेय,लालजी,नवींन शर्मा,शिवकुमार दुबे,विपुल शर्मा,राजकुमार शर्मा,मो0अहमद,प्रभाकर तिवारी,अशोक मिश्रा,सुहेल अहमद,इम्तियाज खान सहित बड़ी संख्या में पत्रकार मौजूद रहे।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it