Begin typing your search...

मेनका गाँधी ने निकाली भड़ास

मेनका गाँधी ने निकाली भड़ास
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

भाजपा प्रत्यासी मेनका गांधी के समर्थन में पूर्व मंन्त्री विनोद सिंह ने लम्भुआ में दिखाई ताकत। लम्भुआ मुख्यालय से मोटर साइकिल रैली निकाल जमखुड़ी गांव में हुए जुटे समर्थक। केंद्रीय मंत्री मेनका गाँधी सुलतानपुर दो 30 व 31 मार्च दिवसीय दौरे पर आई थी लेकिन यहाँ का माहौल कुछ ऐसा रहा कि उनका यहाँ से लौटना मुश्किल हो गया और वह 25 दिनों से लगातार मतदाताओं से जनसंपर्क कर 12 मई को मतदान की अपील किया। 30 मार्च से 15 अप्रैल तक उन्होंने औसतन 7-8 सभाएं रोजाना की लेकिन अब वह 20 से 25 नुक्कड़ सभाओं को संबोधित कर रही है।

केंद्रीय मंत्री मेनका के दो विवादित बयानों की वजह से 15 अप्रैल को देर शाम चुनाव आयोग ने 48 घंटे का बैन लगा दिया था। यह बैन 16 अप्रैल को सुबह 10 बजे से शुरू होकर 18 अप्रैल को उनके नामांकन के दिन सुबह 10 बजे समाप्त हुआ। इसके बाद उन्होंने सभाओं की संख्या धीरे-धीरे बढ़ाना शुरू किया और वह बाहुबली पूर्व विधायक व बसपा-सपा गठबन्धन प्रत्याशी चन्द्रभद्र सिंह के क्षेत्र इसौली से सभाओं की संख्या बढ़ा दी सबसे ज्यादा सभाएं इसौली विधानसभा में की। वही मेनका विधानसभा लम्भुआ में दर्जनभर सभाओं को सम्बोधित किया। वही केंद्रीय मंत्री मेनका गाँधी का कहना है कि सुल्तानपुर जनपद से भ्रष्टाचारों के लिए कोई जगह नहीं है उनको यहाँ से भगाना है और बाहर का रास्ता दिखाना है।

वही मेनका गाँधी ने यह भी कहा कि क्षेत्र में मेरे पास कई कोटेदार आए, उन्होंने बताया कि बंदूक की नोक पर हमसे लाखों की वसूली हुई। जो राशन गरीबों को बंटने आया था। जबरन उठवा ले गए। अगर बंदूकधारी को आप लोग चुनेंगे तो यही होगा। क्योंकि वह लेने वाला है। जबकि मैं यहां की जनता को देने आई हूं। फैसला आपको करना है। गुंडे-बदमाशों को यहां से भगाना व जनता का भला एवं जिले का विकास ही हमारा मकसद है। वही मेनका गांधी ने जनसभा को सम्बोधित करते हुए गठबंधन प्रत्यासी पर जमकर किया प्रहार कहा रैली में आये नौजवान नही देख रहे अपना भविष्य, मेनका गाँधी आएगी तो चीनी मिल को करेगी ठीक। इनके अंदर नही है कोई काबिलियत,बंदूक की नोक पर वसूलेंगे गन्ना किसानों से दो-दो सौ.रुपये,आप लोग उन लोगो को समझाने की करे कोशिश। यहां कोई गठबंधन नही है यहाँ एक तरफ मेनका गांधी है तो दूसरी तरफ वह बंदूक धारी है जो है एक क्रिमनल। जो बंदूक की नोंक पर गोदाम का सारा अनाज लूट लिया।

Special Coverage News
Next Story
Share it