Begin typing your search...

सुल्तानपुर : इमरजेंसी वार्ड में बालिका की इलाज के दौरान मौत, मौत के बाद तीमारदारों ने किया हंगामा

सुल्तानपुर : इमरजेंसी वार्ड में बालिका की इलाज के दौरान मौत, मौत के बाद तीमारदारों ने किया हंगामा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

सुल्तानपुर जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में आज एक बालिका की इलाज के दौरान मौत हो गई। मौत के बाद तीमारदारों ने हंगामा शुरू कर दिया। परिजनों ने आरोप लगाया कि डॉक्टरों की लापरवाही के चलते बालिका की मौत हुई है। वही हंगामे की सूचना मिलते ही प्रभारी सीएमएस मौके पर पहुंचे और बालिका की मौत के मामले डॉक्टर और स्टाफ नर्स को दोषी मानते हुये आलाधिकारियों को कार्यवाही के सूचित कर दिया है। बताते चले की सूबे के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह जिले के प्रभारी मंत्री हैं ऐसे में जिले की स्वास्थ्य सुविधाओं का ऐसा हाल है।

बताते चलें कि चांदा थानाक्षेत्र रेतवा देवाढ गांव की रहने वाली शिवांगी की तबियत खराब थी जिसके बाद परिजन उसे आज सुबह 6 बजे जिला अस्पताल ले आये। जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में शिवांगी को भर्ती कराया गया था। शिवांगी के तीमारदारों का आरोप है कि उसे सांस लेने में दिक्कत थी, लेकिन यहाँ के डॉक्टरों ने उसका ठीक से इलाज नही किया। जिसके चलते शिवांगी की मौत हो गई। इनका कहना है कि जिला अस्पताल के इमर्जेंसीय वार्ड का ये हाल है कि यहाँ ठीक से इलाज नही किया जा रहा।

वहीँ बालिका की मौत के बाद तीमारदारों ने हंगामा शुरू कर दिया। हंगामे की सूचना मिलते ही प्रभारी सीएमएस डॉ सुधीर कुमार गोयल मौके पर पहुंचे। उन्होंने भी माना कि इमरजेंसी वार्ड में तैनात डॉ आर धीरेंद्र और स्टाफ नर्स की लापरवाही के चलते शिवांगी की मौत हुई है। फिलहाल इस मामले में आलाधिकारियों को अवगत कराया गया है। ताकि इन पर कार्यवाही की जा सके।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it