Begin typing your search...

रचनात्मक कार्य समाप्त कर चुनाव जीतने की होड़ मची है - यशवंत सिन्हा

पूर्व वित्त मंत्री ने कहा कि मुझे आईएएस की नौकरी छोड़ने की प्रेरणा लोक नारायण जय प्रकाश के व्यक्तित्व व् क़ुरबानी से प्रभावित होने पर मिली

रचनात्मक कार्य समाप्त कर चुनाव जीतने की होड़ मची है - यशवंत सिन्हा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

सुल्तानपुर जनपद के एक सामाजिक मंच पर जहाँ हर दल के नेता सरीख होकर सामाजिक संगठन द्वारा गरीबो,निराश्रितों को रजाई, ठेला रिक्शा वितरण आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए वही कार्यक्रम का मंच राजनीति का मंच दिखाई दिया पूर्व वित्त मंत्री भारत सरकार एशवन्त सिन्हा ने जब संगठन की तरफ से कार्यक्रम में पहुंचे लोगो को संबोधित कर रहे थे तो उन्होंने कहा कि सबसे पहले भाजपा के अंदर प्रजातंत्र को खत्म करने का काम हुआ है वही अब पूरे देश में प्रजातंत्र को खत्म करने का काम चल रहा है।


खुदीराम बोष की जयन्ती के अवसर पर आजाद समाज सेवा समिति द्वारा 23वें वार्षिकोत्सव खुर्शीद क्लब के मैदान में मनाया गया इस समिति के संस्थापक आप पार्टी के प्रवक्ता व् राज्य सभा सांसद संजय सिंह व् अध्यक्ष अशोक सिंह द्वारा कार्यक्रम को आयोजित किया गया जिसमें मुख्य अतिथि के तौर पर पूर्व वित्त मंत्री भारत सरकार यशवन्त सिन्हा रहे। खुदी राम बोष के चित्र पर पुष्प अर्पित करते हुए कार्यक्रम की शुरआत किया गया, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे पूर्व वित्त मंत्री ने कहा कि, इस देश के महान सपूत चौधरी चरण की जयंती भी आज ही है उनको भी याद करते है, सेवा का जो भाव था हमारी राजनीती से लुफ्त हो गया। आंदोलन के बीच रचनात्मक कार्य गांधी जी के द्वारा दूसरे को दिया जाता था आज रचनात्मक कार्य धीरे धीरे खत्म हो गया, और चुनाव जीतने की होड़ चली है उन्होंने कहा कि मतदान के बाद राजनेता को जनता से मिलने की रूचि खत्म हो जाती है, प्रजातंत्र का यह नियम मतदान के बाद आप सफल होंगे कभी असफल होंगे हमे प्रजातंत्र का मूल मंत्र स्वीकार करना चाहिये उदाहरण के तौर पर संजय सिंह का हवाला देते हुय कहा कि लोग ऐसे कार्य करे जो अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति का कल्याण करे, जैसे संजय सिंह द्वारा हर वर्ष इस ठंड के मौषम में गरीबो असहायों की मदद कर पुनीत कार्य किया जा रहा है।


संजय सिंह को कार्यक्रम की बधाई देते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि मुझे आईएएस की नौकरी छोड़ने की प्रेरणा लोक नारायण जय प्रकाश के व्यक्तित्व व् क़ुरबानी से प्रभावित होने पर मिली उन्होंने आगे यह भी कहा कि 12 वर्ष पहले आईएएस की नौकरी छोड़ कर राजनीति में आने का उद्देश्य व्यक्तिगत लाभ के लिये नही देश की सेवा भाव का था उन्होंने वर्तमान की राजनीति पर नेताओ पर कटाछ करते हुए कहा कि शोशल मीडिया पर अक्सर खबरे प्रकाशित होती रहती है कि मुझे मंन्त्री पद नही मिला तो मैने इसलिये पार्टी को छोड़ दिया वक्त्यव्य को घुमाते हुए पूर्व मंत्री सिन्हा ने कहा कि कोई भी व्यक्ति मेरे पृष्ठ भूमि को देखे तो मेरे ऊपर आरोप नही लगा सकता उन्होंने कहा कि आज के ऐसे हालात है कि प्रजातंत्र खतरे में है पहले प्रजातंत्र को भारतीय जनता पार्टी के अंदर खत्म किया गया और अब पूरे देश में प्रजातंत्र को समाप्त करने का काम चल रहा है उन्होंने वर्तमान सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि दुर्योधन और दुशाशन के बाद कौरव का नाम नही लिया जाता लेकिन भाजपा में यही चल रहा है उन्होंने आगे कहा कि प्रजातंत्र सुरच्छित रहना चाहिये यह देश के हर नागरिको की जिम्मेदारी है हमे चाहिये कि जो लोग प्रजातंत्र को खतरा पैदा कर रहे है उन्हें बाहर कर देना चाहिये।

Special Coverage News
Next Story
Share it