Top
Begin typing your search...

जानिए आखिर क्यों बच्चे सीएम योगी को बोलते हैं टॉफी वाले बाबा

जानिए आखिर क्यों बच्चे सीएम योगी को बोलते हैं टॉफी वाले बाबा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गोरखपुर। माथे पर तिलक, बदन पर गेरुआ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की यह पहचान पूरे देश के सामने हैं. मगर योगी आदित्यनाथ की एक पहचान और भी है, जिससे शायद कम ही लोग वाकिफ हैं. ये पहचान है टॉफी वाले बाबा की.उन्हें ये नाम गोरखपुर के वनटांगियां गांव के बच्चों ने दी है योगी को देखकर वनटांगिया गांव के बच्चे 'टॉफी वाले बाबा' कहकर उनकी तरफ दौड़ पड़ते हैं। योगी भी स्नेह भाव से बच्चों को दुलार करते हैं,


गोरखपुर के वनटांगिया बस्ती के बच्चे दशकों से योगी आदित्यनाथ को इसी नाम से जानते हैं। मुख्यमंत्री बनने के बाद भी उनको इसी नाम से जानते हैं। यूं ही नहीं बच्चों में कोई टॉफी बाबा बन जाता है। इसकी वजह बच्चों के प्रति उनका निश्छल और नैसर्गिक प्रेम। शनिवार को सिद्धार्थनगर जिले के डुमरियागंज में बाढ़ पीड़ितों के बीच जब वह पहुंचे, तब भी यही नजारा दिखा। सीएम ने नौनिहालों को गोद में उठा लिया, प्यार-दुलार किया और उन्हें बिस्किट भी खिलाया।


योगी आदित्यनाथ ने सीएम बनते ही सबसे पहले वनटांगिया गांवों को राजस्व ग्राम घोषित किया। जिससे इस समाज के लोगों को हर वो सुविधाएं मिलने लगी जिनके लिए वे आजादी के बाद से ही मोहताज थे। कभी वीरान पड़े वनटांगियों के गांवों में आज रौनक आ गई है। यहां लोगों को पक्के आवास और शौचालय की सुविधा मिल गई है। गांव के गांव बिजली से रोशन हो चुके हैं। बच्चे अब स्कूल जा रहे हैं, स्वास्थ्य केंद्र में स्वास्थ्य लाभ भी मिल रहा है।


सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it