Begin typing your search...

उन्नाव में फांसी पर लटकते मिले पति-पत्नी के शव, सुसाइड नोट में लिखी ये बात

तीन दिन से दरवाजा न खुलने पर पड़ोसियों ने शंका में पुलिस को सूचना दी थी। पुलिस ने दरवाजा तोड़ा तो शव देख सभी के होश उड़ गये।

उन्नाव में फांसी पर लटकते मिले पति-पत्नी के शव, सुसाइड नोट में लिखी ये बात
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

यूपी के जनपद उन्नाव से एक बेहद चौकानें वाली खबर सामने आ रही है. उन्नाव के गंगाघाट क्षेत्र के सर्वोदय नगर मोहल्ले में किराए के घर में शुक्रवार देरशाम पति-पत्नी के शव लटके मिले। तीन दिन से दरवाजा न खुलने पर पड़ोसियों ने शंका में पुलिस को सूचना दी थी। पीआरवी पुलिस ने दरवाजा तोड़ा तो शव देख सभी के होश उड़ गये। फारेंसिक टीम मौके पर पहुंचकर साक्ष्य जुटाए हैं।

मूलरूप से बाराबंकी के राजकुमार मिश्रा (55) दूसरी पत्नी निशा (35) के साथ सर्वोदय नगर में आशुतोष तिवारी के मकान में किराए पर रहता था। तीन दिन से कमरे का दरवाजा न खुलने पर आसपास रहने वाले लोगों को शंका हुई। उन्होंने 112 नंबर पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने मशक्कत के बाद कमरे में लगा लोहे का दरवाजा तोड़ा तो पति-पत्नी के शव फांसी पर लटकते मिले।

अंदर का नजारा देख पड़ोसियों की चीख निकल गई। मामले की जानकारी पर कोतवाली प्रभारी अरविंद सिंह ने पहुंचकर जांच की। पुलिस को सुसाइट नोट भी मिला। पहुंची फारेंसिक टीम ने मौके पर बारीकी से जांचकर साक्ष्य जुटाए हैं। पुलिस राजकुमार की बेटी अंजलि और कीर्ती को घटना की जानकारी दी।

सुसाइट नोट में लिखा, सबको राम-राम

राजकुमार और निशा के शव के पास पुलिस को सुसाइट नोट मिला, जिसमें लिखा था कि कृपया इनको खबर कर दें। सुनील मिश्रा का नाम और मोबाइल नंबर के साथ अंजलि का नाम और नंबर लिखा था। नोट में सबको राम राम भी लिखा था। राजकुमार की पहली पत्नी पूजा की मौत बीस साल पहले हो गई थी। उस समय उसकी दोनों बेटियां छोटी थीं। इसके बाद उसने निशा से दूसरी शादी की थी।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it