Begin typing your search...

UP MLC Election Result Live: 27 सीटों पर वोटों की गिनती शुरू, दोपहर 2 बजे के बाद आएंगे नतीजे

वैसे तो चुनाव 36 सीटों पर होने थे, लेकिन 9 सीटों पर बीजेपी के प्रत्याशी निर्विरोध चुने गए हैं.

UP MLC Election Result Live: 27 सीटों पर वोटों की गिनती शुरू, दोपहर 2 बजे के बाद आएंगे नतीजे
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

UP MLC Election Result Live: उत्तर प्रदेश विधान परिषद की 36 में से 27 सीटों के लिए 9 अप्रैल को हुए मतदान के लिए मंगलवार (12 अप्रैल) को मतगणना शुरू हो गई है. मतों की गिनती सभी 27 जिलों के कलेक्ट्रेट पर सुबह 8 बजे से शुरू हो गई. सभी सीटों पर मुख्य मुकाबला बीजेपी और समाजवादी पार्टी के बीच है. जहां एक ओर बीजेपी प्रचंड जीत के साथ ऊपरी सदन में बहुमत का इतिहास रचने की बात कह रही है तो वहीं समाजवादी पार्टी अपनी स्थिति को मजबूत रखने की कोशिश की है.

वैसे तो चुनाव 36 सीटों पर होने थे, लेकिन 9 सीटों पर बीजेपी के प्रत्याशी निर्विरोध चुने गए हैं. लिहाजा 27 पर वोटिंग हुई. 9 अप्रैल को आगरा-फिरोजाबाद, मुरादाबाद-बिजनौर, रामपुर-बरेली, गोरखपुर-महाराजगंज, पीलीभीत-शाहजहांपुर, सीतापुर, लखनऊ-उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़, सुल्तानपुर, बाराबंकी, बहराइच, आजमगढ़-मऊ, गाजीपुर, जौनपुर, वाराणसी, इलाहाबाद, झांसी-जालौन-ललितपुर, इटावा-फर्रुखाबाद, गोंडा, फैजाबाद, कानपुर-फतेहपुर, मेरठ-गाजियाबाद, मुजफ्फरनगर-सहारनपुर, बलिया, बस्ती-सिद्धार्थनगर और देवरिया में वोटिंग हुई थी. इन सीटों पर 96 कैंडिडेट मैदान में हैं. आमतौर पर ऐसा माना जाता है कि स्थानीय निकाय प्राधिकार क्षेत्र के इस चुनाव में सत्ता पक्ष की ही जीत होती है. 2004 में मुलायम सिंह यादव जब मुख्यमंत्री थे तब सपा 36 में से 24 सीटों पर जीती थी. इसके बाद 2010 में मायावती के शासनकाल में बसपा ने 36 में से 34 सीटों पर कब्जा किया था. अखिलेश के समय भी कुछ नहीं बदला था, 2016 में अखिलेश की समाजवादी पार्टी ने भी 36 में से 31 सीटें जीती थीं.

दोपहर 2 बजे के बाद आएंगे नतीजे

27 सीटों पर हुए एमएलसी चुनाव में वोटों की गिनती सुबह 8 बजे शुरू हो गई है. कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतगणना हो रही है. उम्मीद जताई जा रही है कि दोपहर दो बजे के बाद नतीजे आने शुरू हो जाएंगे. बीजेपी प्रचंड जीत के साथ 40 साल पुराना इतिहास दोहराने की कोशिश में है.

अपने ही गढ़ में रेस से बाहर दिख रही सपा

यूपी एमएलसी चुनाव में सबकी निगाहें समाजवादी पार्टी के गढ़ आजमगढ़ पर टिकीं हैं. यहां सपा रेस से बाहर दिख रही है. बीजेपी ने सपा विधायक रमाकांत यादव के बेटे को प्रत्याशी बनाया है, जबकि बीजेपी से निष्कासित यशवंत सिंह के बेटे निर्दलीय मैदान में हैं. टक्कर रमाकांत यादव के बेटे और यशवंत सिंह के बेटे के बीच ही मानी जा रही है.

Arun Mishra

About author
Assistant Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it