Top
Begin typing your search...

मंदिर लोगों के लिए आस्था का केंद्र है, पर भाजपा और आरएसएस के लिए व्यापार का जरिया - ओमप्रकाश राजभर

कब गिरफ्तार कर भेजे जाएंगे ये लोग जेल?

मंदिर लोगों के लिए आस्था का केंद्र है, पर भाजपा और आरएसएस के लिए व्यापार का जरिया - ओमप्रकाश राजभर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

उत्तर प्रदेश में आज उस समय हडकम्प मच गया जब अयोध्या में एक जमीन खरीदने में बड़े घोटाले की खबर सामने आई है. ये खबर वायरल होते है बीजेपी से सवाल करते हुए सुहेलदेव राजभर समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने कहा है कि आप इन दोषियों के खिलाफ़ कब कार्यवाही करेंगे और कब तक इनको जेल भेजेंगे?

ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि अयोध्या में एक जमीन 18 मार्च को 2 करोड़ में खरीदी गई. वही जमीन 18 मार्च को ही 5 मिनट बाद राम मंदिर ट्रस्ट ने 18.50 करोड़ मे खरीद ली. दोनों जगह गवाह वही हैं.16 करोड़ का घोटाला. इससे पहले भी निर्मोही अखाड़ा ने विश्व हिंदू परिषद पर 1400 करोड़ घोटाला करने का आरोप लगाया है.

राजभर ने कहा कि मंदिर लोगों के लिए आस्था का केंद्र हो सकता है पर भाजपा/आरएसएस के लिए व्यापार का जरिया है. इस ज़मीन घोटाले से करोड़ो भक्तो के आस्था से खिलवाड़ हुआ है. मोदी जी और योगी जी बताए कब होगा इन ट्रस्टी लोगो पर मुकदमा? कब गिरफ्तार कर भेजे जाएंगे ये लोग जेल?

वहीं अयोध्या-18 करोड़ जमीन कांड पर पर राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय बंसल ने कहा कि हम पर महात्मा गांधी के हत्या के भी आरोप लगे हैं. हम आरोपों से नहीं डरते है.जो आरोप लगे हैं,उसकी मैं स्टडी करूंगा. उसके बाद आगे का निर्णय लूँगा. किसी के आरोप लगाने से कोई आरोपी सिद्ध नहीं हो जाता है.


Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it