Top
Begin typing your search...

महिला इंस्पेक्टर को पुलिस कमिश्नर ने किया सस्पेंड, दो दारोगा भी नपे

महिला इंस्पेक्टर को पुलिस कमिश्नर ने किया सस्पेंड, दो दारोगा भी नपे
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

वाराणसी में पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश की कमिश्नरेट के पुलिसकर्मियों पर की गई कार्रवाई से महकमें में हड़कंप मच गया है। चेतगंज थाना की प्रभारी निरीक्षक (इंस्पेक्टर) संध्या सिंह को करोड़ों की जमीन पर कब्जा कराने के मामले में निलंबत कर दिया गया है। इसी मामले में चेतगंज थाने के सीनियर सब इंस्पेक्टर (एसएसआई) को लाइन हाजिर और लहुराबीर चौकी प्रभारी को निलंबित किया गया है। वहीं, पीएम मोदी से सम्मानित मंगल केवट से बदसलूकी करने वाले चौकी इंचार्ज को भी लाइन हाजिर किया गया है।


यह है मामला

पिशाचमोचन निवासी मुकेश साहू उर्फ बल्लू ने 112 नंबर पर अपनी जमीन को लेकर शिकायत की थी। मुकेश के अनुसार, पिशाचमोचन स्थित उनके द्वारा 70 लाख रुपये में सट्टा कराई गई जमीन पर उनके विरोधी पक्ष के हिस्ट्रीशीटर से पैसा लेकर इंस्पेक्टर चेतगंज संध्या सिंह कब्जा करा रही थीं। मौके पर यूपी 112 की पुलिस गई तो उन्हें इंस्पेक्टर संध्या सिंह ने डांट कर भगा दिया। इस काम में लहुराबीर चौकी इंचार्ज अमित सिंह भी उनका सहयोग कर रहे थे। इसके साथ ही चेतगंज थाने के एसएसआई ओम प्रकाश सिंह ने भी इस मामले में मुकेश का कोई सहयोग नहीं किया।

आरोप है कि मुकेश को थाने पर घंटों बैठाया गया और उन्हीं का गेट भी उठाकर जबरन कब्जा कराई गई जमीन में लगा दिया गया। मुकेश की शिकायत के आधार पर पुलिस कमिश्नर ने एसीपी चेतगंज से जांच कराई तो पुलिसकर्मियों का खेल उजागर हो गया। इसके बाद तीनों पर कार्रवाई कर दी गई।

पीएम मोदी के हाथों सम्मानित हुए ट्रॉली चालक मंगल केवट से मंगलवार को कालभैरव चौकी इंचार्ज सुरेंद्र यादव ने बदसलूकी की। इस पर पुलिस कमिश्नर ने बुधवार को चौकी इंचार्ज को लाइन हाजिर कर दिया। मामले की जांच एसीपी कोतवाली को दी गई है। मंगल केवट के अनुसार, वह राजघाट पुल की सफाई करते हैं और प्रधानमंत्री के आदर्श गांव डोमरी में ट्रॉली चालक हैं।

मंगल ने बताया कि सोमवार की शाम राजादरवाजे से लोहटिया लौट रहे थे। इसी दौरान एक ट्राली चालक को दुकानदार के लड़के ने मारकर घायल कर दिया। इस पर कालभैरव पुलिस चौकी पर शिकायत करने गए तो वहां मौजूद चौकी इंचार्ज ने दुर्व्यवहार किया। इस दौरान समाजसेवी अमन कबीर पहुंचे। बावजूद इसके मेरे ऊपर मुकदमा दर्ज किया गया। पुलिस का यह रवैया ठीक नहीं था।


पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने कहा कि कमिश्नरेट में भ्रष्टाचार करने वाले किसी भी पुलिसकर्मी को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा हाल ही जांच में भ्रष्टाचार में दोषी पाए गए कई पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की गई है। पुलिसकर्मी इस बात को जान लें कि अगर किसी की शिकायत मिलती है, तो जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी।


सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it