Begin typing your search...

क्या रैलियों और चुनावी सभाओं पर लगी रोक बरकरार रहेगी? EC आज करेगा फैसला

Election 2022: जराए के मुताबिक, पांचों रियासतों उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, पंजाब और मणिपुर में रैलियों और रोड शो फिलहाल आगे भी जारी रह सकती है.

क्या रैलियों और चुनावी सभाओं पर लगी रोक बरकरार रहेगी? EC आज करेगा फैसला
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली: पांच रियासतों में होने वाले चुनाव के मद्देनज़र आज चुनाव आयोग की एक अहम बैठक होने जा रही है, जिसमें ये फैसला लिया जाएगा कि कोरोना वबा के सबब पांच चुनावी राज्यों में रैलियों, रोड शो और नुक्कड़ सभाओं पर प्रतिबंध को 15 जनवरी से आगे बढ़ाया जाए या नहीं.

जराए के मुताबिक, पांचों रियासतों उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, पंजाब और मणिपुर में रैलियों और रोड शो फिलहाल आगे भी जारी रह सकती है. केंद्रीय चुनाव आयोग (Central Election Commission) आज रैलियों और जनसभाओं पर लगी रोक को लेकर अपना आदेश जारी कर सकता है.गौरतलब है कि इससे पहले चुनाव आयोग ने आठ जनवरी को उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, पंजाब और मणिपुर में विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान किया था और साथ-साथ महामारी के मद्देनजर 15 जनवरी तक सार्वजनिक रैलियों, रोड शो और नुक्कड़ सभाओं पर पाबंदी लगाने का ऐलान किया था.

इस दौरान आयोग ने 16 सूत्री दिशानिर्देश भी जारी किए थे. उसने सार्वजनिक सड़कों और चौराहों पर नुक्कड़ सभा करने पर रोक लगाई है, हालांकि सीमित संख्या में लोगों के घर-घर जाकर प्रचार करने की अनुमति दी है. चुनाव नतीजों के बाद विजय जुलूस निकालने पर भी रोक होगी. उस चुनाव आोयग सियासी पार्टियों से गुज़ारिश की थी कि वह डिजिटल तौर पर प्रचार मुहिम चलाए. गौरतलब है कि पांचों रियासतों उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, पंजाब और मणिपुर में 10 फरवरी से चुनाव का आगाज़ हो रहा है जो 7 मार्च तक चलेगा और 10 मार्च को नतीजे आएंगे.

Special Coverage Desk Editor
Next Story
Share it