Top
Begin typing your search...

योगी सरकार का किसानों को तोहफा, पराली जलाने के दर्ज 868 केस लिए वापस

बता दें यूपी में पराली जलाने के मामले में किसानों के ऊपर से 868 केस दर्ज थे.

योगी सरकार का किसानों को तोहफा, पराली जलाने के दर्ज 868 केस लिए वापस
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में किसान आंदोलन (Kisan Andolan) के असर को देखते हुए सूबे की योगी सरकार (Yogi Government) ने अहम फैसला लेते हुए करीब 900 किसानों को बड़ी राहत दी है. सरकार ने पराली जलाने को लेकर अलग-अलग थानों में दर्ज करीब 900 मुकदमों को वापस ले लिया है. अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने इस बाबत आदेश जारी कर दिए हैं. बता दें पिछले दिनों मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी में किसानों पर दर्ज केस वापस लेने की घोषणा की थी.

बता दें यूपी में पराली जलाने के मामले में किसानों के ऊपर से 868 केस दर्ज थे. अब सरकार ने मुकदमे वापस ले लिए हैं. अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि किसान प्रदेश की अर्थव्यवस्था और विकास में अहम किरदार निभाते हैं. इसलिए सरकार ने किसानों के ऊपर से पराली जलाने के 868 केस वापस ले लिए हैं.

अवनीश अवस्थी ने आदेश में कहा है कि प्रदेश सरकार कोरोना महामारी के दौरान किसानों के हितों को देखते हुए अलग-अलग जनपदों में दर्ज पराली जलाने के मुकदमों को वापस लेने का आदेश दिया है. गौरतलब है कि प्रदेश में 868 किसानों पर आईपीसी और 1860 की धारा 188, 278, 290 और 291 दर्ज किए गए थे.

CM योगी ने दिया था भरोसा

गौरतलब है कि पिछले दिनों मुख्यमंत्री ने किसानों को आश्वासन दिया था कि उनपर पराली जलाने के दर्ज मुकदमों को जाएगा. साथ ही अगर कोई जुर्माना लगा है तो उसकी भी माफ़ी होगी। इतना ही नहीं मुख्यमंत्री ने गन्ना के समर्थन मूल्य बढ़ाने की बात पर भी विचार करने का भरोसा दिलाया था.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it