Begin typing your search...

Ankita Bhandari: 7 दिन से गायब अंकिता भंडारी का शव बरामद, ऋषिकेश ट्रिप...पुल पर पी शराब और चिला नहर में दे दिया धक्का

सीएम धामी के निर्देश पर देर रात प्रशासन की टीम ने मुख्य आरोपी पुलकित आर्या के रिसॉर्ट पर बुलडोजर चला दिया..!

Ankita Bhandari: 7 दिन से गायब अंकिता भंडारी का शव बरामद, ऋषिकेश ट्रिप...पुल पर पी शराब और चिला नहर में दे दिया धक्का
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

उत्तराखंड पुलिस ने 7 दिन से लापता अंकिता भंडारी का शव बरामद कर लिया है. SDRF ने चिल्ला नहर से इस शव को बरामद किया है और अंकिता के पिता ने उसके शव की शिनाख्त की है. उन्होंने कहा है कि ये अंकिता का ही शव है. उधर उत्तराखंड में रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी केस को लेकर धामी सरकार एक्शन में है. आधी रात को ऋषिकेश में वनतारा रिजॉर्ट ढहा दिया गया है. ये रिजॉर्ट बीजेपी नेता विनोद आर्य के बेटे पुलिकत का था.

बता दें कि इससे पहले धामी सरकार ने इस मामले में बड़ा एक्शन लिया था। सीएम धामी के निर्देश पर देर रात प्रशासन की टीम ने मुख्य आरोपी पुलकित आर्या के रिसॉर्ट पर बुलडोजर चला दिया था। प्रशासन की टीम ने रिसॉर्ट के अवैध हिस्से को बुलडोजर से गिराया था। प्रदेश के डीजीपी अशोक कुमार ने बताया था कि सीएम के आदेश के बाद पौड़ी प्रशासन और पुलिस ने कार्रवाई की थी। आधी रात को ही पुलिस टीम ने आरोपी के रिजॉर्ट को ध्वस्त करवाना शुरू कर दिया था। बता दें कि अंकिता इसी रिजॉर्ट में बतौर रिसेप्शनिस्ट काम करती थी।

18 सितंबर से थी लापता

गौरतलब है कि अंकिता 18 सितंबर से लापता थी और 22 सितंबर को उसका शव मिलने के बाद जब पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला की उसकी हत्या हुई है। इस हत्याकांड में शामिल तीनों आरोपियों को 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर लिया गया। बीजेपी नेता और पूर्व राज्य मंत्री विनोद आर्य का बेटा पुलकित आर्य इस मर्डर केस का मुख्य आरोपी है। पुलिस की जांच में खुलासा हुआ है कि पुलकित और उसके अन्य दो साथियों ने अंकिता भंडारी की हत्या कर उसका शव नहर में फेंक दिया। उत्तराखंड पुलिस ने फेसबुक के जरिए जानकारी दी कि आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलकित आर्य समेत 3 की हुई गिरफ्तारी

गौरतलब है कि उत्तराखंड के पौड़ी जिले के यमकेश्वर क्षेत्र में एक रिजॉर्ट से पांच दिन पहले संदिग्ध परिस्थितियों में लापता 19 वर्षीया अंकिता भंडारी की हत्या के आरोप में शुक्रवार को भाजपा नेता के रिजॉर्ट संचालक पुत्र और उसके दो अन्य कर्मचारियों को गिरफ्तार किया गया। पौडी के श्रीकोट की रहने वाली अंकिता गंगा भोगपुर क्षेत्र में वनतारा रिजॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट के तौर पर काम करती थी और 19 सितंबर से लापता थी।

समझिये कैसे दिया वारदात को अंजाम

आरोपियों ने पुलिस को बताया कि 18 सितंबर की रात पुलकित, अंकित और सौरभ ऋषिकेश घूमने के बहाने अंकिता को साथ लाए थे। पुलकित और अंकित स्कूटी से थे, जबकि सौरभ के साथ अंकिता बैठी थी। आरोपियों ने बताया कि बैराज होते हुए ऋषिकेश एम्स पहुंचे। यहां चारों में काफी देर तक बात हुई। इस दौरान काफी रात हो गई थी। इसके बाद हम लोग चल दिए।

आरोपियों ने बताया कि हम लोग बैराज चौकी से आगे पहुंचे के बाद चिला नहर पर रुक गए। यहां पर अंकित, पुलकित और सौरभ ने जमकर शराब पी। ये सब वहां मौजूद अंकिता भंडारी देखती रही। फिर अचानक से अंकिता से पुलकित का विवाद होने लगा। इस पर अंकिता ने कहा कि वह रिजॉर्ट में चल रहे अनैतिक कामों की जानकारी घरवालों को दे देगी।

अंकिता के घरवालों को बताए जाने की बात से पुलकित और भड़क गया और दोनों में विवाद काफी तेज हो गया। विवाद के बीच अंकिता ने पुलकित का मोबाइल नहर में फेंक दिया। देखते ही देखते अंकिता और पुलकित में हाथापाई शुरू हो गई। दोनों में हाथापाई हो ही रही थी कि पुलकित ने अंकिता को चिला नहर में धक्का दे दिया। नहर में गिरने के बाद अंकिता प्लीज बचा लो...प्लीज बचा लो और पानी से बाहर आने का प्रयास करती, लेकिन नहर में बहाव तेज होने के कारण कुछ देर बाद वह डूब गई। पुलिस ने शनिवार को चिला नहर से अंकिता का शव बरामद कर लिया है।

पुलिस ने मामले में तीन आरोपियों-रिजॉर्ट संचालक पुलकित आर्य, प्रबंधक सौरभ भास्कर और सहायक प्रबंधक अंकित गुप्ता को गिरफ्तार किया। मुख्य आरोपी पुलकित हरिद्वार के भाजपा नेता विनोद आर्य का पुत्र बताया जा रहा है। विनोद आर्य पूर्व में दर्जाधारी राज्य मंत्री भी रह चुके हैं। आर्य को उत्तराखंड माटी कला बोर्ड के अध्यक्ष पद पर नियुक्ति के साथ राज्य मंत्री का दर्जा दिया गया था।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it