Begin typing your search...

कॉर्बेट वाटर फॉल सैलानियों के लिए बंद, छात्रों की मौत के बाद फैसला

कार्बेट वाटर फाॅल को सैलानियों के लिए तत्काल प्रभाव से बंद कर दिया है।

कॉर्बेट वाटर फॉल सैलानियों के लिए बंद, छात्रों की मौत के बाद फैसला
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

हल्द्वानी-रामनगर मोटर मार्ग पर रामनगर वन प्रभाग के घने जंगल में स्थित कार्बेट वाटर फाॅल को सैलानियों के लिए तत्काल प्रभाव से बंद कर दिया है। यह फैसला कल रविवार को द्रोण कॉलेज ऊधमसिंहनगर के दो छात्रों की डूबने से हुई मौत के बाद लिया गया है। इसके साथ ही वाटर फॉल में डूबे दूसरे छात्र की डेडबॉडी भी सोमवार को बरामद कर ली गई।

मालूम हो कि कल रविवार को दिनेशपुर के द्रोण कॉलेज के छात्रों का एक दल नैनीताल घूमने जाने के लिए निकला था लेकिन नैनीताल में सैलानियों की बेतहाशा भीड़ को देखते हुए उन्हें कालाढूंगी से आगे नहीं जाने दिया गया था। जिसके बाद यह दल कालाढूंगी के पास रामनगर-हल्द्वानी रोड पर नया गांव स्थित कॉर्बेट वाटर फॉल घूमने आ गया था। जहां एक पहाड़ी से तलहटी की गिरते खूबसूरत पानी के झरने को देखकर छात्र पानी में नहाने का लोभ संवरण न कर सके।

हालांकि इस वाटर फॉल में कई लोगों की डूबकर हुई मौतों के बाद वन विभाग ने यहां नहाने पर प्रतिबंध लगा रखा है। लेकिन चेतावनी भरे बोर्डों को दरकिनार कर लोग यहां नहाते ही रहते हैं। इसी वजह से घूमने आए इस ग्रुप के छात्र भी वाटर फॉल में नहाने चले गए। लेकिन दुर्भाग्य से रिंकी मंडल और अभिजीत अधिकारी नाम के दो छात्र वाटर फॉल के गहरे कुंड में फंसकर डूब गए।

कार्बेट फॉल पर एक छात्र का शव रविवाद देर शाम को ही बरामद कर लिया गया था। जबकि दूसरे का पता नहीं चल सका था। रात होने के कारण रेस्क्यू रोक दिया गया था। सोमवार सुबह रेस्क्यू अभियान चलाकर दूसरे छात्र का शव भी कार्बेट फॉल से बरामद कर लिया गया।

Sakshi
Next Story
Share it