Top
Begin typing your search...

बिना टेस्ट के ऐसे समझें, आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं

आप बच्चे पैदा करने की उम्र में हैं और फैमिली प्लानिंग की है तो इन लक्षणों से हिंट ले सकती हैं।।

बिना टेस्ट के ऐसे समझें, आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

प्रेगनेंसी या गर्भावस्था के दौरान महिला के शरीर में पहले दिन से ही बदलाव आने शुरू होने लगते हैं और कई बार तो ये बदलाव इतने नॉर्मल होते हैं कि महिला ये समझ ही नहीं पाती है कि ये बदलाव उनकी प्रेगनेंसी की वजह से हो रहे हैं. हर महिला के शरीर में प्रेगनेंसी के दौरान होने वाले बदलाव अलग-अलग होते इसका कन्फर्मेशन प्रेग्नेंसी टेस्ट के जरिये हो जाता है। इसके कुछ और भी लक्षण हैं जिनसे अंदाजा लग जाता है जैसे पीरियड का मिस होना।


वहीं पीरियड मिस होने के पहले भी कई बार आपको जानने की उत्सकुता होती है कि आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं। कई बार ऐसा भी होता है कि पीरियड मिस हो जाने को लोग नॉर्मल लेते हैं और टेस्ट न करवाने पर लापरवाही होने पर कॉम्प्लिकेशंस हो जाते हैं। इन सारे कन्फ्यूजंस से बचने के लिए यहां कुछ लक्षण हैं जिनसे टेस्ट के पहले आप समझ सकती हैं कि आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं।

- अगर आप बच्चे पैदा करने की उम्र में हैं तो एक हफ्ते या इससे ज्यादा दिन तक पीरियड नहीं हुआ है तो इसकी वजह प्रेग्नेंसी हो सकती है। हालांकि पीरियड मिस होने की कई और भी वजहें होती हैं। स्ट्रेस या हॉरमोन्स में उतार-चढ़ाव भी पीरियड मिस होने की वजह हो सकती है।

- पीरियड मिस होने के साथ अगर आपको टॉइलट सामान्य की अपेक्षा ज्यादा बार जाना पड़ रहा है तो ये लक्षण भी प्रेग्नेंसी की ओर इशारा है। प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर का खून बढ़ने से ब्लैडर में ज्यादा मात्रा में फ्लूइड इकट्ठा होता है।

- प्रेग्नेंसी की जब शुरुआत होती है तो हॉरमोन्स में बदलाव की वजह से ब्रेस्ट में भारीपन या हल्का दर्द महसूस हो सकता है। हॉरमोन्स के अडजस्ट होते ही कुछ हफ्तों में यह दिक्कत ठीक हो जाती है।

- सुबह उठते ही, दिन के किसी भी वक्त या रात में जी मिचलाना या उल्टी आना भी प्रेग्नेंसी का लक्षण है। ज्यादातर यह लक्षण प्रेग्नेंसी के पहले महीने में दिखता है।

- कुछ महिलाओं को प्रेग्नेंसी की शुरुआत में गर्भाशय में हल्का दर्द भी महसूस होता है। वहीं हॉरमोन्स में बदलाव होने की वजह से दस्त या कब्ज की शिकायत हो सकती है।

- प्रेग्नेंसी के दौरान खाने की कुछ चीजों की महक आपको बुरी लग सकती है। वहीं कुछ चीजें जो आपको पहले पसंद थीं उनका टेस्ट बुरा लग सकता है।

- प्रेग्नेंसी होने पर आपको हल्की हरारत महसूस हो सकती है। फीवर आने की एक और वजह यह भी हो सकती है कि प्रेग्नेंट होने पर शरीर की इम्यूनिटी घट जाती है। ऐसा इसलिए होता है ताकि आपका प्रतिरक्षा तंत्र भ्रूण को खतरा समझकर उसे रिजेक्ट न करने लगे। इसलिए इस वक्त दूसरे इन्फेक्शंस की वजह से बुखार आ सकता है

नोट: यहां बताए ज्यादातर लक्षणों की वजह प्रेग्नेंसी हो ये जरूरी नहीं। कई और वजहों से भी शरीर में ऐसे बदलाव दिख सकते हैं। आप बच्चे पैदा करने की उम्र में हैं और फैमिली प्लानिंग की है तो इन लक्षणों से हिंट ले सकती हैं।।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it