Top
Begin typing your search...

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के CEO रहे आशीष चौहान, इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय के चांसलर नियुक्त किये गये

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के CEO रहे आशीष चौहान, इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय के चांसलर नियुक्त किये गये
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शशांक मिश्रा

आज राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय के कुलाधिपति के रूप में आशीष कुमार चौहान को नियुक्त किया है आशीष कुमार चौहान बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के एम डी एवं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के संस्थापक सदस्य रहे हैं और उनको भारत में फाइनेंशियल डेरिवेटिव्स का जनक भी कहा जाता है वे 2009 से बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज से जुड़े उनके नेतृत्व में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज दुनिया का सबसे तेज गति से चलने वाला एक्सचेंज बन गया साथी उसने अपना आईपीओ भी पूरा किया। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज की राजस्व आय सुधारने तथा mobile stock trading लाने और करेंसी कमोडिटी इक्विटी डेरिवेटिव और स्टार्टअप में सहित अनेक नई दिशाओं में अपना कार्यक्षेत्र बढ़ाने का कार्य भी उन्ही के नेतृत्व में हुआ।

जब मुम्बई इंडियंस की आई पी एल टीम बनाई गई थी तो उसके सीईओ आशीष कुमार चौहान से उन्होंने इसके साथ ही रिलायंस ग्रुप के प्रेसिडेंट और सीआईए के रूप में वर्ष 2000 से 2009 तक काम किया है इस अवधि में कंपनी आई टी इ कॉमर्स पब्लिक रिलेशंस मीडिया टेलीकॉम स्पोर्ट्स ऑर्गेनाइज्ड रिटेल आईपीओ पेट्रोकेमिकल रिफायनिंग ऑयल और गैस आदि क्षेत्रों में कंपनी को नेतृत्व दिया उन्होंने अपने करियर की शुरुआत आईडीबीआई में बैंकर के तौर पर की थी वह यूएन , यू इन सी टी ऐ डी , ओ ई सी डी, कॉमनवेल्थ आदि अनेक संगठनों द्वारा आयोजित कांफ्रेंस में एक्सपर्ट के तौर पर आमंत्रित किए जा चुके हैं।

साथ ही राजस्व मंत्रालय एम एस एम ई मंत्रालय, सी बीडीटी, आर बी आई सेबी की पॉलिसी कमिटी के सदस्य भी रह चुके हैं। उन्होंने साउथ एशिया फेडरेशन आफ एक्सचेंज का नेतृत्व भी किया है जिसमे 20 से ज़्यादा एक्सचेंज सदस्य हैं। उनके योगदान एवं उपलब्धियों के लिए उन्हें अनेकों पुरुस्कार मील है जिनमे प्रमुख हैं डिजिटल आइकॉन ऑफ थे ईयर, एशियन टॉप बैंकर, , टॉप 50 सी ई ओ इन द वर्ल्ड आदि हैं। वे अनेक लब्धप्रतिष्ठ संस्थानों के बोर्ड से भी सदस्य के रूप में जुड़े रहे हैं जिनमे प्रमुखतः हसीन आई आई एम ए जे एन आई एफ एम , निट, इन आई आई टी। साथ ही वे रेयरसन यूनिवर्सिटी टोरंटो के विजिटिंग फैकल्टी और नॉटिंघम यूनिवर्सिटी बिज़नेस स्कूल के विशिष्ट प्रोफेसर भी हैं। वे बी एस ई के ऊपर लिखी गयी किताब BSE A temple of wealth creation" के सह लेखक भी हैं। उनके अपने जीवन पर "स्थितप्रज्ञ The Process Unki of maintaining equilibrium" नामक पुस्तक लिखी गई है।

विश्वविद्यालय के और उसके सहायक कॉलेजों के सभी शिक्षकों एवं कर्मचारियों ने इस बात पर खुशी व्यक्त करें कि उनको आशीष चौहान जैसे लब्ध प्रतिष्ठित और डायनामिक सेप्टिक का नेतृत्व मिलेगा उन्होंने चौहान को विश्विद्यालय परिवार ने स्वागत किया।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it