Top
Begin typing your search...
Home India

You Searched For "India"

जनजातीय ग्रामों में वित्तीय समावेशन व आजीविका का अभिसरण विषय पर वेबिनार आयोजित किया गया

जनजातीय ग्रामों में वित्तीय समावेशन व आजीविका का अभिसरण विषय पर...

सम्‍मेलन का उद्देश्‍य मौजूदा संसाधनिक अवसंरचना को जनजाति समाज की वास्‍तविकताओं के प्रति संवेदनशील, राष्‍ट्रीय विकास को अधिक समावेशी और राष्‍ट्र...

हिटलर ज़िन्दा है....

हिटलर ज़िन्दा है....

दरअसल हिटलर कभी मरा ही नहीं. बीच-बीच में वह सिर उठाता ही रहता है कभी हमारे ही भीतर तो कभी छुपे/खुले रूप में कहीं भी. आज तो हिटलर मौजूद है एकदम नंगा...

बीजू पटनायक देश के प्रथम ऐसे व्यक्ति थे जिनके निधन पर उनके पार्थिव शरीर को तीन देशों के राष्ट्रीय ध्वज में लपेटा गया था

बीजू पटनायक देश के प्रथम ऐसे व्यक्ति थे जिनके निधन पर उनके पार्थिव...

इंडोनेशिया के राष्ट्रपति सुकर्णो ने भारत से मदद मांगी और इंडोनेशिया के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों ने बीजू पटनायक से मदद मांगी।बीजू पटनायक और उनकी...

1 अप्रैल 2019 से पूर्व पंजीकृत मोटर वाहनो में हाई सिक्योरिटी नम्बर प्लेट एवं कलर कोडेड स्टीगर लगाने की अंतिम तिथि 30 सितम्बर

1 अप्रैल 2019 से पूर्व पंजीकृत मोटर वाहनो में हाई सिक्योरिटी नम्बर...

यह कार्य 30 सितम्बर 2021 तक पूरा हो जाना चाहिये था। क्योकि उक्त प्रक्रिया की निगरानी रोड सेफ्टी कमेटी आॅन सुप्रीम कोर्ट द्वारा की जाती हैं। तथा इसकी...

पंजाब : कांग्रेस का कमजोर होना देश के लिए घातक, लेकिन उससे भी ज्यादा घातक कांग्रेस का वैचारिक रूप से दिवालिया होना..

पंजाब : कांग्रेस का कमजोर होना देश के लिए घातक, लेकिन उससे भी ज्यादा...

अगर आप सिद्धू के पिछले 1 वर्ष के बयानों को देखेंगे तो आपको महसूस होगा की वह कांग्रेस के आलाकमान जिसे गांधी परिवार कहा जाता है उसको भी ललकारने से बाज...

भारत सरकार ने अब कंटेनर कॉर्पोरेशन ऑफ़ इंडिया को बेचने का भी किया एलान..

भारत सरकार ने अब कंटेनर कॉर्पोरेशन ऑफ़ इंडिया को बेचने का भी किया...

कॉनकोर इन अरबो की रेलवे की ज़मीन को कौड़ियों के दाम यानी 8,000 करोड़ में खरीदेगा । कॉनकोर के पास पैसे नहीं है तो यह पैसा उसे बैंक से लोन में मिलेगा और ...

भारत में दुनिया का नेतृत्व करने की क्षमता : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

भारत में दुनिया का नेतृत्व करने की क्षमता : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

आज दुनिया की तमाम जातियां अपने मूल में ही समाप्त होती गई हैं जबकि भारत में फलफूल रही हैं। पूरी दुनिया को भारत ने ही वसुधैव कुटुंबकम का भाव दिया है...

Share it