Top
Begin typing your search...
Home नजरिया

नजरिया

तेजस्वी, हेमंत और अखिलेश से उम्मीद है उन्हें कन्हैया जोकर क्यों लगता है ?

तेजस्वी, हेमंत और अखिलेश से उम्मीद है उन्हें कन्हैया जोकर क्यों लगता...

इस देश में प्रगतिशीलता का बुरा हाल इसलिये है क्योंकि उसने लालू, मुलायम और शिबू सोरेन जैसे भ्रष्ट और अवसरवादी लोगों में नायकत्व तलाशने की कोशिश की।...

बिजली संकट में डालने के लिए धन्यवाद मोदी जी बोलना ही पड़ेगा, आप पूछेंगे कैसे ? तो यह जान ले...

बिजली संकट में डालने के लिए 'धन्यवाद मोदी जी' बोलना ही पड़ेगा, आप...

देश को अभूतपूर्व बिजली संकट में डालने के लिए 'धन्यवाद मोदी जी' बोलना ही पड़ेगा,....... 70 सालो में ऐसा संकट कभी नही आया और यह संकट मोदी सरकार की...

लखीमपुर में गिद्धारथियो का जमावड़ा, बाप का माल है: लुटाओ दोनों हाथों से

लखीमपुर में गिद्धारथियो का जमावड़ा, बाप का माल है: लुटाओ दोनों हाथों से

लखीमपुर खीरी के मृतक किसानों के परिजनों को मुख्यमंत्री बघेल, चरनजीत सिंह चन्नी और यूपी के सीएम सरकारी खजाने से खैरात में राशि देकर सरकारी धन को स्वाहा ...

गाँधी का चंपारण पहुंचना और चंपारण ना छोड़ने के निश्चय से ही ब्रितानी हुकूमत हिल गई थी

गाँधी का चंपारण पहुंचना और चंपारण ना छोड़ने के निश्चय से ही ब्रितानी...

गाँधी जब चम्पारण गये थे तो उन्होंने तीन दिन का वक्त तय किया था, लेकिन फिर वहां के किसानों की दुर्दशा और खराब हालत देखकर गाँधी वहां एक वर्ष रुकना पड़ा। ...

भीड़ के बीच लाउड स्पीकर पर एक आवाज गूंजती है खबरदार इंडिया वालों

भीड़ के बीच लाउड स्पीकर पर एक आवाज गूंजती है 'खबरदार इंडिया वालों'

7लाख से ज्यादा किसानों की भीड़ के बीच लाउड स्पीकर पर एक आवाज गूंजती है 'खबरदार इंडिया वालों!दिल्ली में भारत आ गया है।'जैसे ही यह आवाज गूंजी,पूरी दिल्ली ...

जानें- कस्तूरबा के साथ शादी को लेकर क्या सोचते थे गांधी?

जानें- कस्तूरबा के साथ शादी को लेकर क्या सोचते थे गांधी?

हर साल 2 अक्टूबर को पूरा भारत मोहनदास करमचंद गांधी यानी ​​महात्मा गांधी का जन्मदिन मनाता है। 'आजाद भारत' की लड़ाई में उनके निस्वार्थ योगदान के लिए...

मछलियों का सरदार बोला...ये बगुले तुम हमारे लिए क्या करोगे...?

मछलियों का सरदार बोला...ये बगुले तुम हमारे लिए क्या करोगे...?

तालाब के किनारे एक सर्प रोज आकर पानी में अठखेलियाँ कर रही मछलियों को निहारता था। मछलियां अब पानी के बीचो बीच जलक्रीड़ा करती मगर किनारे नहीं जाती थीं।...

Share it