Begin typing your search...
Home Dharma Karma

You Searched For "dharma karma"

जानें शिवलिंग पर क्या चढ़ाएं और क्या नहीं, शिव पूजा में भूलकर भी न शामिल करें ये चीजें

जानें शिवलिंग पर क्या चढ़ाएं और क्या नहीं, शिव पूजा में भूलकर भी न...

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार सोमवार का दिन भगवान भोलेनाथ को समर्पित होता है। इस दिन विधि- विधान से भोलेनाथ की पूजा- अर्चना की जाती है। भोलेनाथ की कृपा...

खरमास खत्म होने के साथ ही शुरू हुए ये शुभ कार्य

खरमास खत्म होने के साथ ही शुरू हुए ये शुभ कार्य

हिंदू पंचांग का 11 महीना माघ आज से प्रारंभ हो गया है। इस महीने को हिंदू धर्म में काफी शुभ माना जाता है। माघ महीने में कई व्रत-त्योहार भी आते हैं।...

पसीना वाले हनुमान जी का ऐतिहासिक मंदिर का वर्णन, जानें कहां पर है ये स्थित

पसीना वाले हनुमान जी का ऐतिहासिक मंदिर का वर्णन, जानें कहां पर है ये...

साथियों कुछ समय पूर्व मैंने उत्तर प्रदेश के शहर फिरोजाबाद जो कि मेरी मातृभूमि भी है उसके इतिहास का वर्णन किया था और बताया था कि फिरोजाबाद से लगभग 7...

मकर संक्रांति पर बन रहा इस साल विशेष संयोग, जानिए इसका प्रभाव

मकर संक्रांति पर बन रहा इस साल विशेष संयोग, जानिए इसका प्रभाव

सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करने पर मकर संक्रांति का पर्व मनाया जाता है। हिंदू धर्म में मकर संक्रांति का विशेष महत्व होता है। इस साल मकर संक्रांति का ...

आज से इन राशियों पर कृपा करेंगी धन की देवी मां लक्ष्मी

आज से इन राशियों पर कृपा करेंगी धन की देवी मां लक्ष्मी

नए साल 2022 की शुरुआत आज से हो गई है। ज्योतिष गणनाओं के अनुसार साल 2022 में कुछ राशि वालों पर मां लक्ष्मी की विशेष कृपा रहेगी। आइए जानते हैं साल 2022...

बाबा काशी विश्वनाथ मंदिर से जुड़े 11 रहस्य

बाबा काशी विश्वनाथ मंदिर से जुड़े 11 रहस्य

काशी का मूल विश्वनाथ मंदिर बहुत छोटा था। 17वीं शताब्दी में इंदौर की रानी अहिल्याबाई होल्कर ने इसे सुंदर स्वरूप प्रदान किया। कहा जाता है कि एक बार रानी ...

साल 2022 में इन 4 राशियों पर रहेंगी मां लक्ष्मी मेहरबान

साल 2022 में इन 4 राशियों पर रहेंगी मां लक्ष्मी मेहरबान

कुछ दिनों बाद साल 2022 की शुरुआत होने जा रही है। हर व्यक्ति चाहता है कि नया साल बेहतर रहे और इस साल धन संबंधित परेशानियों का सामना न करना पड़ा।...

जानें क्यों हनुमानजी ने लिया ये पंचमुखी रूप

जानें क्यों हनुमानजी ने लिया ये पंचमुखी रूप

जब राम और रावण की सेना में युद्ध चल रहा था और रावण अपने पराजय के समीप था तब उसने अपने मायावी भाई अहिरावण को बुलाया जो मां भवानी का परम भक्त था इसे...

Share it